LOADING

Type to search

दिल्ली में कोविड के इलाज की दरें घोषित, निजी अस्पतालों पर शिकंजा

देश स्वास्थ्य

दिल्ली में कोविड के इलाज की दरें घोषित, निजी अस्पतालों पर शिकंजा

Share

निजी अस्पतालों में कोविड की टेस्टिंग के साथ इजाज की दरें निर्धारित
–गृहमंत्रालय के दखल पर निजी अस्पतालों में इलाज खर्च एक तिहाई किया
–कमेटी की सिफारिश पर गृहमंत्रालय ने जारी किया रेट लिस्ट
-आइसोलेशन बेड 8000-10000, आईसीयू वेंटिलेटर के साथ 15000-18000
–रैपिड ऐंटिजन प्रणाली से टेस्टिंग शुरू, आगे टेस्टिंग और बढ़ाई जाएगी
-193 टेस्टिंग केन्द्रों पर कुल 7040 लोगों की जाँच
–कंटेनमेंट जोन में सवा दो लख लोगों का सर्वेक्षण किया गया

नई दिल्ली / टीम डिजिटल : केंद्रीय गृह मंत्रालय ने राजधानी दिल्ली में कोविड-19 के मरीजों का स्वास्थ्य सर्वे से लेकर टेस्टिंग के साथ ही निजी अस्पतालों में मरीजों के उपचार की अधिकतम दरें निर्धारित कर दी हैं। इससे अब दिल्ली के प्राईवेट अस्पतालों में कोविड मरीज कम खर्च में अपना इलाज करवा सकेंगे। सरकार ने इलाज के खर्च को करीब एक तिहाई कर दिया है। इससे अब दिल्लीवासियों को बड़ी राहत मिली है। इसके लिए गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली में निजी अस्पतालों द्वारा कोविड मरीजों के लिए विभिन्न श्रेणियों जैसे-आइसोलेशन बेड्स, वेंटिलेटर के बिना आईसीयू और वेंटिलेटर के साथ आईसीयू के 60 प्रतिशत बेड्स की दरें निर्धारित करने के लिए नीति आयोग के सदस्य डॉक्टर वी के पॉल की अध्यक्षता में एक कमिटी गठित की थी।

यह भी पढें…भारतीय रेलवे ने चीनी कंपनी को दिया झटका, 471 करोड़ का ठेका किया रद्द

कमेटी ने सभी निजी अस्पतालों (निजी अस्पताल एनएबीएच से अधिकृत है या नहीं इस पर निर्भर) में आइसोलेशन बेड्स के लिए (पीपीई और दवाइयों सहित) 8000-10000 प्रतिदिन, आईसीयू वेंटिलेटर के बिना (पीपीई और दवाइयों सहित) 13,000-15,000 प्रतिदिन और आईसीयू वेंटिलेटर के साथ (पीपीई और दवाइयों सहित) के लिए 15,000-18,000 रुपये प्रतिदिन की सिफारिश की है।

अभी इनके लिए 24,000-25,000 (पीपीई के बिना), 34,000-43,000 (पीपीई के बिना) और 44,000-54,000 (पीपीई के बिना) रुपये लिए जाते हैं। अभी तक प्राईवेट अस्पतालों ने कोविड के नाम में कई गुना रेट लिस्ट लगा रखी थी और मरीजों से वसूल रहे थै। अब सरकार की ओर से निर्धारित की कई कीमतों के आधार पर ही उन्हें इलाज करना होगा।

कंटेनमेंट जोन में सवा दो लख लोगों का सर्वेक्षण

इसके अलावा दिल्ली में टेस्टिंग क्षमता बढ़ाने और जाँच के नतीजे जल्द देने के कल से रैपिड ऐंटिजन प्रणाली से जाँच शुरू की गयी है। 193 टेस्टिंग केंद्रों पर कुल 7040 लोगों की जाँच की जा चुकी है। आगामी दिनों में टेस्टिंग की संख्या और बढ़ाई जाएगी। साथ ही केन्द्रीय गृहमंत्री के लिए गए निर्णयों के बाद सैम्पल टेस्टिंग तुरन्त दोगुनी की जा चुकी है। दिल्ली में 15 से 17 जून के दौरान 27263 जाँच नमूने लिए गए हैं, जबकि इससे पहले प्रतिदिन 4000-4500 सैम्पल लिए जाते थे। इसके अलावा राजधानी दिल्ली के 242 कंटेन्मेंट जोन में घर-घर स्वास्थ्य सर्वे का काम कल पूरा हो गया। इसमें कुल 2.3 लाख लोगों का सर्वे किया गया है।

दिल्ली के निजी अस्पतालों में कोविड-19 उपचार की नई दरें

———————————-
श्रेणी(निजी अस्पताल)                 नई दरें (प्रतिदिन)                पुरानी दरें (प्रतिदिन)
(पीपीई और दवाइयों सहित)             (पीपीई के बिना)

आइसोलेशन बेड्स                   रुपया 8000-10000                 रुपया 24000-25000

आईसीयू वेंटिलेटर के बिना-      रुपया 13000-15000                रुपया 34000-43000

आईसीयू वेंटिलेटर के साथ       रुपया 15000-18000                 रुपया 44000-54000

Tags:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *