LOADING

Type to search

DL और बैज वाले वाहन चालकों को मिलेगा 5-5 हजार रुपये

दिल्ली देश

DL और बैज वाले वाहन चालकों को मिलेगा 5-5 हजार रुपये

Share

—दिल्ली सरकार ने बनाई रणनीति, आज से ट्रांसपोर्ट विभाग की वेबसाइट पर करें आवेदन
—चालकों के पास वैध ड्राइविंग लाइसेंस और बैज होना अनिवार्य
– दिल्ली में एक- दो दिन में कंटेंनमेंट एरिया और बढ़ाए जाएंगे, यह रेड जोन होंगे
– जिनके पास राशन कार्ड नहीं है, ऐसे 23 लाख लोगों को मुफ्त राशन

नई दिल्ली / टीम डिजिटल : कोरोना की रोकथाम के लिए किए गए लाँक डाउन के कारण दिल्ली में बेरोजगार हुए हजारों ऑटो, ई-रिक्शा, ग्रामीण सेवा, फट-फट सेवा, टैक्सी चालकों व उनके परिवारों को दिल्ली सरकार 5,000 देने जा रही है। सोमवार से सभी चालक अपना आवेदन दिल्ली ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट की वेबसाइट पर कर सकते हैं। इसके अलावा दिल्ली सरकार ने कोरोना को मात देने के लिए चिंहित रेड और आँरेंज जोन एरिया में बड़े पैमाने पर सैनिटाइजेशन अभियान शुरू करने का फैसला किया है। यह घोषणा मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने की। उन्होंने कहा कि दिल्ली में घोषित किए गए सभी कंटेनमेंट जोन (रेड जोन) एरिया को सैनिटाइज किया जाएगा। साथ ही चिंहित हाई रिस्क जोन (आँरेंज जोन) एरिया को भी सैनिटाइज किया जाएगा। इसके लिए 10 हाईटेक जापानी मशीन समेत कुल 60 मशीनें इस्तेमाल की जाएंगी। मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में कोरोना मरीजों की बढ़ती संख्या के मद्देनजर कुछ और एरिया को एक-दो दिन में कंटेनमेंट जोन घोषित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि जिनके पास राशन कार्ड नहीं है, ऐसे 23 लाख लोगों को मुफ्त राशन दिया जाएगा।

दिलशाद गार्डन में चलाया गया शील्ड अभियान सफल

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पिछले कुछ दिनों से हम सब देख रहे हैं कि दिल्ली में कोरोना के केस थोड़ा ज्यादा बढ़ रहे हैं। इसे लेकर मैं खुद भी चिंतित हूं। इसे नियंत्रित करने के लिए जो भी कदम उठाने की जरूरत है, वह सभी कदम हम उठा रहे हैं। मुझे विश्वास है कि आने वाले दिनों में हम इसे कम करने में सफल हो जाएंगे। हम लोगों ने दिलशाद गार्डन में एक प्रयोग किया था। दिलशाद गार्डन में एक महिला विदेश से लौट कर आई थीं और उनके संपर्क में आने पर 6- 7 लोगों को कोरोना हो गया था। हमने उस पूरे एरिया को सील कर दिया था। वहां हमने आँपरेशन शील्ड लागू किया। उस एरिया के अंदर किसी को आने की अनुमति नहीं थी और न तो उस एरिया से किसी व्यक्ति को बाहर जाने की अनुमति थी। उस एरिया के लोगों के घरों में सभी आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति की गई। पूरी एरिया को सैनिटाइज किया गया। आॅपरेशन शील्ड के तहत जो भी कदम उठाए गए, उसका परिणाम यह रहा कि पिछले 10 दिन से वहां पर एक भी कोरोना का नया मरीज सामने नहीं आया है।

33 या 35 एरिया को कंटेनमेंट जोन घोषित

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली के अंदर कई इलाकों में जहां कोरोनों के मरीज मिल रहे हैं, बड़े स्तर पर उन सभी एरिया को कंटेनमेंट जोन घोषित करते जा रहे हैं। उन सभी एरिया में आॅपरेशन शील्ड लागू कर रहे हैं। अब तक 33 या 35 एरिया को कंटेनमेंट जोन घोषित किया जा चुका है। हमारी टीम ने कई और एरिया को चिंहित किया है, जहां आने वाले एक-दो दिन के अंदर कंटेनमेंट जोन घोषित किया जाएगा। वहां पर भी बहुत सख्त तरीके से आॅपरेशन शील्ड लागू किया जाएगा।

हम नहीं चाहते दिल्ली में भी अमेरिका की तरह भयावह स्थिति पैदा हो

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मैं समझ सकता हूं कि जो लोग भी उस एरिया में रहते हैं, उन्हें काफी तकलीफ होगी। हम यह सभी काम आपके और आपके परिवार की सेहत व जिंदगी के लिए कर रहे हैं। हम देख रहे हैं कि किस तरह पिछले 24 घंटे में अमेरिका के अंदर 2 हजार लोगों की मौत हो गई। हम नहीं चाहते हैं कि इतनी भयावह स्थिति हमारी दिल्ली के अंदर आए। एक तरंफ, हम दिल्ली के अंदर कंटेनमेंट एरिया को बढ़ाने वाले हैं। जहां पर कोरोना के मरीज मिलेंगे, उसी एरिया को हम कंटेनमेंट घोषित करेंगे। दूसरी तरफ, हम बड़े स्तर पर सैनिटाइजेशन अभियान शुरू कर रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि एक तरह से यह सभी कंटेनमेंट एरिया रेड जोन हैं। इनके अंदर बहुत बड़े स्तर पर सड़कों पर सैनिटाइजेशन अभियान शुरू किया जाएगा। इसके अलावा, विशेषज्ञों के द्वारा जो एरिया हाई रिस्क जोन पाए जाएंगे, उन्हें हम आॅरेंज जोन घोषित कर रहे हैं। रेड जोन वे हैं, जो कंटेनमेंट जोन हैं। आँरेज जोन वे हैं, जो हाई रिस्क जोन हैं। वहां पर भी हम सैनिटाइजेशन अभियान शुरू करेंगे।

जापानी मशीन से होगी सैनिटाइजेशन

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि सैनिटाइजेशन के लिए पीआई इंडस्ट्रीज ने दिल्ली सरकार को 10 हाईटेक जापानी मशीन दी है। एक मशीन 20 हजार वर्ग मीटर प्रति घंटे सैनिटाइजेशन कर देती हैं। पीआई इंडस्ट्रीज का नाम लेना इसलिए आवश्यक है, क्योंकि इस कंपनी ने दिल्ली सरकार को फ्री में मशीनें दी है। हम इनका शुक्रिया करना चाहते हैं। इसके अलावा हम दिल्ली जल बोर्ड की 50 मशीनों का सैनिटाइजेशन में इस्तेमाल करेंगे। इस तरह हम कल से 60 मशीनों के जरिए दिल्ली के रेड जोन और हाई रिस्क जोन के अंदर सैनिटाइजेशन अभियान का वृहद कार्यक्रम शुरू करेंगे।

Tags:

You Might also Like

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *