LOADING

Type to search

पाकिस्तान में 3 महीने में 55 सिख लड़कियां अगवा, कराया धर्म परिवर्तन

दुनिया पंजाबी न्यूज

पाकिस्तान में 3 महीने में 55 सिख लड़कियां अगवा, कराया धर्म परिवर्तन

Share

–गुरुद्वारा कमेटी ने विदेश मंत्रालय को दी जानकारी, हस्तक्षेप की मांग
–सौंपा ज्ञापन, सिखों की बेटियों को जबरन करा रहे हैं धर्म परिवर्तन
–दिया अल्टीमेटम, पाकिस्तानी दूतावात के बाहर करेंगे प्रदर्शन

नई दिल्ली टीम डिजिटल : पाकिस्तान के गुरुद्वारा पंजा साहिब के हैडग्रंथी की बेटी बुलबुल कौर को अगवा करने के मामले को लेकर सिखों का एक दल विदेश मंत्रालय से मिला। सिखों ने मंत्रालय को एक ज्ञापन सौंपते हुए सिख परिवार का मामला पाकिस्तान सरकार के समक्ष उठाने की गुहार लगाई। दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा ने मंत्रालय को बताया कि पंद्रह दिन पहले गुरूद्वारा पंजा साहिब के हैड ग्रंथी की बेटी बुलबुल कौर को दो मुस्लिम लड़कों ने अगवा कर लिया था और अभी तक उसका कुछ पता नहीं लग रहा है जबकि परिवार द्वारा बार-बार पुलिस व अन्य अधिकारियों के पास पहुंच की गई है। लड़की के पिता ग्रंथी प्रीतम सिंह ने स्थानीय नेताओं एवं सरकार से बेटी को धर्म परिवर्तन से बचानेे की अपील की है।


उन्होंने कहा कि बुलबुल कौर को अगवा कर यह प्रभाव देने की कोशिश की जा रही है कि सिखों के प्रमुख गुरूद्वारा साहिब के हैडग्रंथी की बेटियों का झुकाव भी मुस्लिम धर्म की तरफ है और ऐसी साजिश सिख कभी बर्दाशत नहीं करेंगे। सिरसा ने ऐलान किया कि अगर कल रविवार शाम तक लड़की वापिस न लौटी तो हम पाकिस्तान हाईकमीशन के आगे धरना देंगे जो सिर्फ एक दिन नहीं बल्कि न्याय मिलने तक जारी रहेगा।
प्रतिनिधिमंडल ने मंत्रालय को बताया कि पिछले 3 महीनों में अल्पसंख्यक भाईचारे की 55 लड़कियां अगवा हो चुकी हैं, जिनका जबरन धर्म परिवर्तन कर उनका विवाह मुस्लिम लड़कों से करा दिया जाता है और इस केस में भी ननकाणा साहिब के हैडग्रंथी की बेटी जगजीत कौर के कस वाला तरीका अपनाया गया है। सिखों ने मंत्रालय को अपील की कि यह मामला तुरंत पाकिस्तान सरकार के समक्ष उठाया जाए और दिल्ली गुरुद्वारा कमेटी व शिरोमणि अकाली दल के एक प्रतिनिधिमंडल को पाकिस्तान जाने की आज्ञा दी जाए जो वहां जाकर इन लड़कियों के हालात और वास्तव में कितनी लड़कियां अगवा हुईं, उसका पता लगा सकेगा। सिरसा ने यह भी बताया कि मंत्रालय में पाकिस्तान डैस्क के इंचार्ज संयुक्त सचिव जे.पी सिंह ने उन्हें बताया कि जब कल शाम जब उन्होंने फोन पर उन्हें सूचित किया था तो उसके पश्चात पाकिस्तान हाई कमीशन को बुलाया गया था और उन्हें कहा गया है कि वह 24 घंटो में लड़की की वापसी सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि अब फिर से इस संबंध में रिपोर्ट मांगी जा रही है।

Tags:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *