LOADING

Type to search

RSS की महिला संगठनों ने बलात्कार-हत्या कांड के खिलाफ खोला मोर्चा

वूमेन स्पेशल

RSS की महिला संगठनों ने बलात्कार-हत्या कांड के खिलाफ खोला मोर्चा

Share

संघ के महिला संगठनों ने बलात्कार-हत्या कांड के खिलाफ खोला मोर्चा
—राष्ट्र सेविका समिति, महिला समन्वय और हिन्दू जागरण मंच का विशाल प्रदर्शन
—दोषियों को कड़ी सजा देने की उठाई मांग

नई दिल्ली, भारत के सबसे बड़े महिला संगठन राष्ट्र सेविका समिति, महिला समन्वय और हिंदू जागरण मंच ने हैदराबाद में एक महिला चिकित्सक के साथ हुई दरिंदगी और उसे जिंदा जला कर मारे जाने के खिलाफ जंतर-मंतर पर विशाल प्रदर्शन किया। उन्होंने हत्यारे बलात्कारियों के पुतलों को फांसी भी दी।

इस अवसर पर विदूषी शर्मा, सह प्रांत कार्यवाहिका, राष्ट्र सेविका समिति, दिल्ली प्रांत ने कहा कि भारत में नारी सदैव पूजनीय रही है। हर कीमत पर महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित की जानी चाहिए। ऐसे वीभत्स काम करने वाले लोगों को कड़ी सजा होनी चाहिए। मैं फांसी की सजा के पक्ष में नहीं हूं। ऐसे दुष्कर्मियों को ऐसी सजा मिलनी चाहिए कि उनका आने वाला हर दिन और हर पल उनके लिए किसी सजा से कम न हो।

प्रदर्शन में आक्रोश व्यक्त करने आईं साध्वी प्राची, जागृत महिला ने कहा कि माताओं को जागृत होना चाहिए। उन्हें अपने ऐसे दुष्कर्मी बेटों को स्वयं सजा दिलवानी चाहिए। अगर निर्भया कांड के दोषियों को फांसी की सजा मिल जाती तो आज एक बेटी के साथ फिर ऐसी दरिंदगी नहीं होती। ऐसे लोगों के साथ वही सलूक करना चाहिए जो डॉक्टर के साथ हुआ। इन्हें चैराहे पर खड़ा करके, इन पर पेट्रोल डाल कर आग लगा देनी चाहिए।

NRI: जिंदगी जीने की दिखी आश, महिलाओं ने बढ़ाये ‘ कदम ‘

 

अनिल त्रिपाठी, अध्यक्ष, हिंदू मंच, दिल्ली ने कहा कि ये हादसा दुर्भाग्यपूर्ण है और मानवता पर कलंक है। सरकार को ऐसे लोगों को सजा देने के लिए कड़े कानून बनाने चाहिए।

प्रदर्शनकारियों ने तेलंगाना सरकार और वहां के गृह मंत्री मौहम्मद महमूद अली के खिलाफ भी आक्रोश व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि हादसे की जगह से डॉक्टर के अलावा एक और महिला की जली लाश मिली। ये बताता है कि राज्य में कानून व्यवस्था की हालत कितनी लचर है। लेकिन गृह मंत्री हादसे के लिए डॉक्टर को ही कठघरे में खड़ा कर रहे हैं। ये निंदनीय है, गृह मंत्री को तुरंत बर्खास्त किया जाना चाहिए।

Tags:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *