LOADING

Type to search

‘जरनैल’ के आदेश को कैसे इन्कार सकता है ‘सिपाही’

Uncategorized

‘जरनैल’ के आदेश को कैसे इन्कार सकता है ‘सिपाही’

Share

–नवजोत सिद्धू के इस्तीफे पर कैप्टन अमरिंदर ने किया कटाक्ष
–यदि सिद्धू अपना काम नहीं करना चाहते तो मैं क्या कर सकता हूं : अमरिन्दर
–नवजोत कौर की उम्मीदवारी का कभी विरोध नहीं किया सिद्धू की पत्नी को बठिंडा से चुनाव लडऩे का दिया था सुझाव

(नीता बुधौलिया)

नई दिल्ली, 15 जुलाई : पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने आज यहां कहा कि यदि नवजोत सिंह सिद्धू अपना काम नहीं करना चाहते तो वह इसमें कुछ नहीं कर सकते। उन्होंने सवाल किया कि जरनैल द्वारा सौंपा गया काम करने से एक सिपाही कैसे इन्कार कर सकता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि यदि सरकार की कार्यवाही कारगर ढंग से चलानी है तो इसमें कुछ अनुशासन भी होना चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि सिद्धू द्वारा अपना इस्तीफा कांग्रेस प्रधान को भेजने में उनको कुछ गलत नहीं लगा। सवाल के जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा कि मंत्रीमंडल का फैसला कांग्रेस हाईकमान की सलाह से किया जाता है, जिस कारण सिद्धू द्वारा अपना इस्तीफा पार्टी प्रधान को भेजना ठीक है। मुख्यमंत्री संसद भवन में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ शिष्टाचार मिलनी के बाद पत्रकारों के साथ अनौपचारिक बातचीत कर रहे थे।
लोकसभा चुनाव के बाद अपने मंत्रीमंडल के फेरबदल में 17 में से 13 मंत्रियों के विभाग बदलने का जिक्र करते हुए कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा कि सिद्धू ही एकमात्र ऐसा मंत्री है जिसको इससे समस्या हुई है। उन्होंने कहा कि फेरबदल का फैसला मंत्रियों की कार्यशैली के आधार पर ही लिया गया था और सिद्धू को अपना नया विभाग स्वीकृत करना चाहिए था।
मुख्यमंत्री ने कहा कि सिद्धू को बहुत अहम बिजली विभाग दिया गया था, जिसकी धान के सीजन के मौके पर जून से अक्तूबर महीने तक महत्ता और भी बढ़ जाती है। पंजाब के कई हिस्सों में उपयुक्त बारिश नहीं पड़ी और बिजली की स्थिति पर रोजाना निगरानी रखने की जरूरत होती है। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह काम अब वह स्वयं कर रहे हैं।

सिद्धू की पत्नी को बठिंडा से चुनाव लडऩे का दिया था सुझाव


मुख्यमंत्री ने सिद्धू और उसकी पत्नी द्वारा संसदीय चुनाव के लिए श्रीमती सिद्धू की उम्मीदवारी संबंधी जारी किये बयान पर अपनी नाखुशी जाहिर की। उन्होंने स्पष्ट किया कि उन्होंने कभी भी नवजोत कौर सिद्धू की उम्मीदवारी का विरोध नहीं किया और सुझाव दिया था कि उसे बठिंडा से चुनाव लडऩी चाहिए जिसको सिद्धू दम्पत्ति ने रद्द कर दिया था।
राहुल गांधी संबंधी पूछे गए सवाल के जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा कि वह निश्चित तौर पर श्री गांधी को मिलेंगे। कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा कि राहुल गांधी द्वारा पार्टी के लिए काम किया जा रहा है और इसमें कोई रुकावट नहीं आई जैसे कि विरोधी पक्ष और मीडिया के एक हिस्से द्वारा पेश किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी में समूचे तौर पर काम चल रहा है।

मेरा उनके साथ कोई मतभेद नहीं


यह पूछे जाने पर क्या सिद्धू ने फिर सुलह सफाई की कोशिश की है तो मुख्यमंत्री ने कहा इसकी कोई जरूरत नहीं है। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, मेरा उनके साथ कोई मतभेद नहीं है। यदि सिद्धू को मुझसे किसी तरह की कोई समस्या है तो आप इस संबंधी उन्हीं ही पूछो।
सिद्धू के इस्तीफ के मुद्दे पर मुख्यमंत्री ने कहा कि उनको बताया गया है कि इस्तीफा चंडीगढ़ में उनकी रिहायश पर भेज दिया गया है, परन्तु उन्होंने अभी यह इस्तीफा देखना है। वह इस संबंधी कोई भी टिप्पणी करने से पहले इस्तीफा पढ़ेंगे।

Tags:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *