LOADING

Type to search

अर्बन नक्सल के इशारे पर पंजाब को बर्बाद करना चाहती है सरकार

पंजाब राज्य

अर्बन नक्सल के इशारे पर पंजाब को बर्बाद करना चाहती है सरकार

Share

–भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव तरूण चुग ने बोला कैप्टन सरकार पर हमला
–कहा- पंजाब के उधोग और कारोबार को खत्म करना चाहती है सरकार
–केंद्र सरकार के फंड गांवों की बजाय इधर-उधर खर्च किया, नहीं है जवाब
–पंजाब में 200 गुडस ट्रेनें फंसी हैं, सुरक्षा की गारंटी नहीं दे रही है सरकार

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल : भारतीय जनता पार्टी ने आज यहां पंजाब सरकार को कटघरे में खड़ा करते हुए करारा हमला बोला है। साथ ही दावा किया कि कैप्टन सरकार अर्बन नक्सल के इशारे पर पंजाब को बर्बाद करना चाहती है। भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव तरूण चुग ने कैप्टन अमरिन्दर सिंह सरकार को किसानों के आन्दोलन की आड़ में पंजाब में अर्बन नक्सल को बढ़ावा देना का आरोप लगाया। साथ ही कहा कि केंद्र सरकार की ओर से पंजाब राज्य को भेजे गए ग्रामीण विकास फंड को गाँव के विकास में न लगाकर इधर उधर खर्च किया जा रहा है। बीजेपी अब कैप्टन अमरिंदर सिंह सरकार से आरडीएफ का हिसाब पूछ रही है तो सरकार मामले को डायवर्ड कर लोगों केा गुमराह कर रही है। साथ ही अफवाह फैलाया जा रहा है कि मोदी सरकार आरडीएफ को बंद कर रही है। जबकि ऐसा कुछ नहीं है।

यह भी पढें...मोदी सरकार ने 18 देशद्रोहियों को घोषित किया आतंकवादी

भाजपा नेता ने कहा कि केंद्र सिर्फ फंड कहां खर्च किया है, उसका विवरण मांग रहा है। इस मामले में फंसी कांग्रेस सरकार इसे गलत तरीके से लोंगो के बीच ले जाकर गुमराह कर रही है। चुग ने दावा किया कि कैप्टन सरकार ने केंद्र सरकार द्वारा पंजाब को मिलने वाले ग्रामीण विकास फंडों का गलत जगहों पर दुरुपयोग किया है। जबकि मोदी सरकार ने पैसा गांव की गलियों ,नालियों, सड़कों के लिये भेजा था।
भाजपा नेता चुग ने स्पष्ट किया कि मोदी सरकार गांव के विकास को लेकर बचनबद्ध है और कोई भी फंड बंद नहीं किया है। चुग ने कहा की कोरोना महामारी के कारण पहले ही व्यापार चरमरा चुका था।

यह भी पढें...यूपी के ‘लोकल उत्‍पाद’ दे रहे चाइना के उत्‍पादों को टक्‍कर

पंजाब की अर्बन नक्सल हितैषी नीतियों के कारण एवं बडे उद्योग के खिलाफ बनाये जा रहे माहौल से पंजाब में नए उद्योग लगाने वाले अपने इरादों में बदलाव करने में मजबूर हो रहे हैं। चुग ने कहा की केंद्र सरकार रेलगाड़ी चलाना चाहती है, लेकिन पंजाब सरकार सुरक्षा देने को तैयार नहीं है। हालात यह है कि करीब 200 गुड्स ट्रेन पंजाब में फंसे हैं। रेलवे ने पहले ही स्पष्ट कर दिया है कि जब तक पंजाब सरकार सुरक्षा का भरोसा नहीं देती है तब तक ट्रेन नहीं चलाई जाएगी। चुग ने कहा की जो उद्योग पंजाब में कारोबार कर रहे हैं वो पंजाब सरकार की गलत नीतियों के कारण धीरे-धीरे बंद हो रहे हैं। इसके चलते 1500 करोड़ का नुकसान सहने के लिए मजबूर है।

Tags:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *