LOADING

Type to search

जागो के नेता दिल्ली में नहीं लड़ेगें सियासी चुनाव…जाने क्यूं

पंजाबी न्यूज

जागो के नेता दिल्ली में नहीं लड़ेगें सियासी चुनाव…जाने क्यूं

Share

—गुरुद्वारा कमेटी चुनाव के निकट आते ही जागो से लोगों का जुडऩा जारी
–नए पदाधिकारी बनाए गए, दर्जनों नए पदाधिकारी जुडे

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल : दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के चुनाव की सरगर्मी शुरू होते ही नेताओं एवं कार्यकर्ताओं को दूसरे दलों से तोडऩा और अपनी-अपनी पार्टियों में शामिल कराने का सिलसिला शुरू हो गया है। इस कड़ी में पहली बार चुनाव लडऩे जा रही जागो पार्टी ने संगठन तथा जन समर्थन को लेकर संगतों के बीच बड़ी मुहिम का आगाज किया है। दिल्ली के चौखंडी, दिल्ली छावनी,कालका जी, गोविंद पुरी, पीतम पुरा, चाँद नगर, सरिता विहार, तिलक नगर, मीरा बाग, रोहिणी तथा मॉडल टाउन के कई गणमान्य सिख पार्टी में शामिल हुए।

साथ ही इस मौके संगठन का विस्तार करते हुए नए पदाधिकारी भी बनाए गए। इसमें मुख्य रूप से हरजीत सिंह जीके को जागो का उपाध्यक्ष, पुनप्रीत सिंह को जागो यूथ विंग का अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष तथा हरजीत सिंह बाउंस को दिल्ली प्रदेश जागो यूथ विंग का उपाध्यक्ष बनाया गया। इसके अलावा कई अन्य लोगों को भी पदाधिकारी बनाया गया हैं।
इस मौके पर पार्टी अध्यक्ष मनजीत सिंह जीके ने अपने पिता जत्थेदार संतोख सिंह तथा अपने द्वारा कौम के लिए किए गए कामों की जानकारी समर्थकों को दी, साथ ही कमेटी के मौजूदा प्रबंधकों के अल्पज्ञान तथा विवादित कार्यप्रणाली पर भी चुटकी ली।

इसे भी पढें...ताजिंदगी दूसरों के लिए जीना चाहता है एक शख्स… जाने कौन है

जीके ने जागो परिवार के साथ अपना दर्द बयान करते हुए कहा कि मैं लड़ाकू शख्सियत का मालिक हूँ, जब मैं रासुका तथा कांग्रेस सरकार की सिख विरोधी कार्रवाई से नहीं डरा, संसद भवन के सामने 1984 का स्मारक बनाने से नहीं घबराया, पंजाब चुनावों के दौरान डेरा से समर्थन लेने के कारण अपनी पार्टी अकाली दल बादल के खिलाफ बोलने से नहीं रुका तो आगे भी नहीं रूकंूगा। उन्होंने कहा कि सज्जन कुमार को जेल भेजने की लड़ाई कमजोर नहीं होने दी और फिर भी सरकार से अपने लिए कुछ नहीं माँगा, तो क्या मैं इनके द्वारा मेरे खिलाफ साजिश करके डाले गए केसों से डर जाऊँगा ? इस मौके जागो के महासचिव परमिंदर पाल सिंह तथा कमेटी सदस्य चमन सिंह ने भी अपने विचार रखें।

Tags:

You Might also Like

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *