LOADING

Type to search

मंजीत जीके का दावा, मनजिंदर सिरसा ने बेची ‘गुरबाणी’

पंजाबी न्यूज

मंजीत जीके का दावा, मनजिंदर सिरसा ने बेची ‘गुरबाणी’

Share

-बंगला साहिब गुरुद्वारे का यूटयूब पर सिरसा ने लाखों रुपये कमाया

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल : इन दिनों दिल्ली की सिख राजनीति में आरोप-प्रत्यारोप  काफी तेज़ हो गए है, हाल ही मे ताज़ा मामला गुरुद्वारा बंगला साहिब के नाम पर यूटयूब पर गुरबाणी का प्रसारण कर रहें पेज पर विवाद का है। जागो पार्टी ने उक्त पेज को कमेटी के अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा का आधिकारिक यूटयूब पेज बताया है। साथ ही दावा किया है कि उक्त पेज का गूगल एडसेंस खाता बना हुआ है तथा हर साल औसतन 49200/ अमेरिकी डॉलर पेज के मालिक के पास जा रहा है।

इसे भी पढें…सिरसा अचानक छुटटी पर, दो कार्यकारी अध्यक्ष चलाएंगे गुरुद्वारा कमेटी

जागो पार्टी के अध्यक्ष मनजीत सिंह जीके ने इस मामले में कमेटी अध्यक्ष सिरसा को कटघरे में खड़ा किया है। साथ ही जवाब मांगा है। पत्रकारों से बातचीत करते हुए जीके ने कहा कि जिस पेज पर गुरुद्वारा बंगला साहिब से लगातार गुरबाणी का प्रसारण हो रहा है, उस पेज के अबाउट सेक्शन में साफ लिखा है कि यह पेज मनजिंदर सिंह सिरसा का आधिकारिक पेज है और म्यूजिक सेक्सन में पंजीकृत है। इसलिए लंगर का आटा बाजार में बेचने के बाद अब गुरबाणी बेचने के मामले में सिरसा की भूमिका पूरी तरह से संदिग्ध है।

इसे भी पढें..यात्रीगण ध्यान दें… मंडुआडीह रेलवे स्टेशन का नाम हुआ बनारस

जीके ने साफ कहा कि पहले हम सिरसा को एक पत्र लिखकर इसके बारे सफाई माँगेगें, यदि सफाई तर्कसंगत नहीं हुई तो फिर अगली कानूनी कार्रवाई के बारे विचार करेंगे। उन्होंने कहा कि  बड़ी हैरानी की बात है कि सिरसा ने अपने पेज को गुरुद्वारा बंगला साहिब के लाइव के लिए क्यों चुना, जबकि कमेटी के 2 पेज यूटयूब पर पहले से मौजूद थे।

इसे भी पढें..राहुल गांधी, आप हारे हुए इंसान है सिर्फ फैला सकते हैं फेक न्यूज: जे पी नड्डा

इसमें एक 2017 में बना है और एक 2019 में, दोनों में क्रमवार 1600 तथा 268 अमेरिकी डॉलर अभी तक आए हैं। जीके ने इस पेज पर गुरबाणी प्रसारण के दौरान बीच में गूगल द्वारा विज्ञापन चलाने के सबूत पर एक वीडियो भी चलाकर दिखाई। साथ ही कहा कि जहां यह गुरबाणी के प्रसारण का निजी फायदा उठाने का मामला है वहीं गुरबाणी रोककर विज्ञापन चलाने से गुरबाणी की बेअदबी भी हो रही है। जागो के महासचिव परमिंदर पाल सिंह ने इसे कंटेंट व कॉपीराइट एक्ट का दुरुपयोग बताया। साथ ही सिरसा की मीडिया कंपनी एमीनेट एडमीडिया प्राइवेट लिमिटेड होने का दावा भी किया।

सिरसा का दावा, सबूत पेश कर दें तो छोड़ देंगे सियासत

दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा ने जागो पार्टी के अध्यक्ष मनजीत सिंह जी.के को खुली चुनौती दी है कि उनके बैंक खाते या उनकी टीम के किसी भी सदस्य के बैंक खाते का विवरण दिखाएं, जिसके खाते में पैसे आए हैं और अगर वह ऐसे सबूत दे देते हैं तो वह तुरंत सियासत छोड़ देंगे। सिरसा ने कहा कि जी.के की तरह अदालतों का बहाना नहीं बनायेंगे।
सिरसा ने मनजीत सिंह जी.के व उनके साथियों को खुली चुनौती देते हुए कहा है कि अगर जी.के में दम है तो वह उनके खिलाफ सबूत संगत के सामने पेश करें और वह हमेशा जब भी जी.के समय तय करें संगत के सामने सबूत पेश करने के लिए तैयार हैं। जिन्हें गोलक चोरी पर लूट करने के दोषों के चलते संगत ने दिल्ली गुरुद्वारा कमेटी से बाहर का रास्ता दिखाया है आज वह दूसरों पर झूठे और बेबुनियाद दोष लगा रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह लोग झूठे दावे कर रहे हैं कि हमने गुरबाणी बेची है। उन्होंने कहा कि ना तो हमनें गुरबाणी बेची है और ना ही हमारी मानसिकता है कि हम गुरबाणी बेचें। उन्होंने कहा कि ऐसे काम हमेशा जी.के ने किए हैं।

Tags:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *