LOADING

Type to search

JAGO का आरोप, RTI कानून का दुरुपयोग कर रही है गुरुद्वारा कमेटी

दिल्ली देश

JAGO का आरोप, RTI कानून का दुरुपयोग कर रही है गुरुद्वारा कमेटी

Share

-जागो पार्टी ने लगाया कमेटी प्रबंधन पर आरोप
–केंद्रीय सूचना आयुक्त को दी जाएगी शिकायत
–सीएजी ऑडिट लागू करवाने के लिए हाईकोर्ट जाएगी जागो

(लोकेश निरवाल)
नई दिल्ली 17 दिसंबर:  सिखों की अगुवाई वाली धार्मिक पार्टी जागो (जग आसरा गुरु ओट) ने आरोप लगाया कि दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी सूचना का अधिकार (आरटीआई) कानून का इस्तेमाल सच्चाई को छिपाने और झूठ का बखान करने के उद्देश्य से कर रही है। इसके अलावा आरटीआई के तहत सवालों के जवाब, सवाल पूछने वाले की विचारधारा व हैसियत की कसौटी पर कस कर देने का नया रुझान शुरू किया गया है।

जागो के महासचिव परमिंदर पाल सिंह ने दावा किया कि कमेटी के द्वारा अपने प्रियजनों को कानूनी शिकंजे से बचाने के लिए आरटीआई के मनमाफिक गलत जवाब भी उपलब्ध करवाए जा रहें है। इसलिए हम आरटीआई कानून की अवज्ञा के खिलाफ अब केंद्रीय सूचना आयुक्त(सीआईसी) को कमेटी की लोक सूचना अधिकारी (पीआईओ) के खिलाफ शिकायत देंगे। परमिंदर सिंह ने दावा किया कि कमेटी अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा कमेटी प्रबंध के पारदर्शी होने का ढिंढोरा पीट रहे हैं, वहीं दूसरी ओर आरटीआई का सही जवाब देने से भाग रहे हैं।

पत्रकारों से बातचीत करते हुए परमिंदर सिंह ने खुलासा किया कि कमेटी के पूर्व महासचिव गुरमीत सिंह शंटी के द्वारा अपने कार्यकाल के दौरान की गई 5 करोड़ रुपये की सब्जी खरीद के कथित घोटाले को लेकर कमेटी सदस्य हरजीत सिंह जीके ने पटियाला हाउस कोर्ट में केस डाला था। लेकिन, कमेटी ने शंटी को दिए एक आरटीआई के जवाब में कमेटी की सब्जी खरीद में कोई विसंगती न होने तथा इस घोटाले की जांच के लिए कमेटी के द्वारा कोई जांच कमेटी भी न बनाने का झूठ बोल दिया। जिस वजह से सीएमएम कोर्ट ने हरजीत सिंह जीके की शिकायत रद्द कर दी। अब हरजीत ने इस मामले में सेशन कोर्ट में अपील लगाई हुई है। इसकी सुनवाई 18 दिसंबर को है। इसलिए फैसला किया है कि अब आरटीआई के तहत कमेटी द्वारा बोले गए झूठ को कोर्ट के सामने रखेंगे। ताकि झूठ बोलने वाले बेनकाब हो सके। इस मौके पर परमिंदर सिंह ने सब्जी खरीद गड़बड़ी मामले की सारी फाईलें भी मीडिया के सामने सार्वजनिक की।

परमिंदर सिंह ने बताया कि कमेटी के खातों के ऑडिट के लिए सीएजी लगाने की माँग वाली दिल्ली हाईकोर्ट में लंबित याचिका का जागो पार्टी समर्थन करती है तथा जल्द ही इस केस में हम दाखिल होकर सीएजी लगाने की अदालत से माँग करेंगे। पूर्व कमेटी अध्यक्ष मनजीत सिंह जीके ने ही कमेटी में पारदर्शिता के लिए आरटीआई को लागू करने का फैसला लिया था और अब हम सीएजी लागू करवाने के लिए पूरी कोशिश करेंगे।

कमेटी ने सब्जी घोटाले से गुरमीत शंटी को बचाया : परमिंदर

जागो के महासचिव परमिंदर सिंह ने कहा कि कमेटी के पूर्व कार्यकारी अध्यक्ष हरमीत सिंह कालका ने 18 अक्टूबर 2018 को उक्त सब्जी खरीद गड़बड़ी की जांच के लिए कमेटी के मुख्य सलाहकार कुलमोहन सिंह को संयोजक बनाते हुए जांच कमेटी बनाई थी। जांच कमेटी ने 26 फरवरी 2019 को कालका को लिखित रिपोर्ट दी, जिसमें कालका को इस मामले के सभी कागजात पटियाला हाउस कोर्ट में होने का हवाला देकर कोर्ट जाने का कालका को सुझाव दिया गया। इसके बाद 2 मार्च 2019 को कालका ने कमेटी सदस्यों हरजीत सिंह जीके तथा भूपिंदर सिंह भुल्लर को कानूनी कार्यवाही के लिए अधिकृत किया था। लेकिन, कालका खुद अपने इस आदेश को 21 मार्च 2019 को एक ऑफिस आर्डर के जरिए रद्द कर देते हंै। इसके बाद कमेटी आरटीआई के जरिए शंटी को 16 अप्रैल 2019 को जवाब देकर कहती है कि सब्जी खरीद में कोई घोटाला नहीं हुआ, कोई जांच कमेटी नहीं बनी तथा न ही किसी को इस मामले में कोई केस डालने के लिए कमेटी ने किसी को अधिकृत किया है। परमिंदर ने कहा कि आरटीआई के इसी झूठे जवाब के कारण निचली अदालत ने शंटी को राहत दी थी।

अध्यक्ष पर लगे गोलक चोरी के दोषों का जवाब संगत को दे जागो : कमेटी 

दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के सदस्य विक्रम सिंह रोहिणी और विजलैंस विभाग के चेयरमैन ओंकार सिंह राजा ने कहा है कि जागो पार्टी के तथाकथित प्रवक्ताओं द्वारा कमेटी व इसके पदाधिकारियों के खिलाफ दुष्प्रचार करने से पहले उन्हें अपने राष्ट्रीय अध्यक्ष मनजीत सिंह जी.के पर लगे गोलक चोरी के दोषों की सच्चाई संगत के सामने रखनी चाहिए।
सदस्यों ने कहा कि हैरानी वाली बात है कि जागो पार्टी के तथाकथित प्रवक्ता अपने अध्यक्ष और अपने किये हुए कुकर्मों के बारे में चुप हैं, जबकि दूसरों के खिलाफ दुष्प्रचार कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि पूरी संगत जानती है कि मनजीत सिंह जी.के एवं उनके सहयोगी सदस्यों ने मिलकर गुरु की गोलक का पैसा चोरी किया है।


उन्होंने कहा कि दिल्ली कमेटी द्वारा जितने पारदर्शी तरीके से कार्य किया जा रहा है उसकी कोई मिसाल नहीं मिलती। उन्होंने इन तथाकथित प्रवक्ताओं व इनकी पार्टी के नेताओं को याद दिलाया कि पिछले दिनों जब इन्होंने नये बने भाई कांग्रेस की झोली पकड़े परमजीत सिंह सरना ने दुष्प्रचार करने की कोशिश की तो कमेटी के नेताओं ने इन्हें खुली चुनौती दी और पूरा दिन कमेटी के दफ्तर में इंतजार किया पर इन चोरों में से कोई नहीं पहुंचा। उन्होंने कहा कि संगत भलीभांति परिचित है कि जागो पार्टी के नेता तो गुरु घरों व संगत के विरोधी है तभी तो 550वें प्रकाश पर्व के कार्यक्रमों में बाधा डालने व दुष्प्रचार करने के मुहिम चला कर रखी।

Tags:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *