LOADING

Type to search

गुरुद्वारा: खरीदी बियर, मांजने होंगे बर्तन, साफ करने होंगे जूते

दिल्ली देश

गुरुद्वारा: खरीदी बियर, मांजने होंगे बर्तन, साफ करने होंगे जूते

Share

–बंगला साहिब गुरुद्वारा के चेयरमैन को हुई धार्मिक सजा

–बियर खरीदने का पाप, जूते साफ कर होगा माफ
-श्री अकाल तख्त साहिब ने किया था तलब, हुई कार्रवाई
–शराब के ठेके पर बियर खरीदते हुए वायरल हुई थी वीडियो

(नीता बुधौलिया)

नई दिल्ली, 6 जनवरी : दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के मुख्य सलाहकार एवं गुरुद्वारा बंगला साहिब के चेयरमैन परमजीत सिंह चंढोक को श्री अकाल तख्त साहिब ने सोमवार को धार्मिँक सजा सुनाई है। दरअसल सोशल मीडिया पर चंढोक के द्वारा दिल्ली के पॉश इलाके खान मार्केट स्थित शराब के ठेके से बीयर खरीदने की वीडियो वायरल हुई थी। कुछ समय बाद ही ठेके से सीसीटीवी फुटेज भी बाहर आ गई थी। इसके बाद परमजीत सिंह चंढोक के खिलाफ कई संगठन लामबंद हो गए।

साथ ही सोशल मीडिया पर जमकर वीडियो वायरल हुई। इसके बाद इंटरनेशनल सिख कौंसिल की अध्यक्ष तरविंदर कौर खालसा ने सबूतों के साथ श्री अकाल तख्त साहिब का दरवाजा खटखटाया। इसपर अकाल तख्त साहिब के जत्थेदार ज्ञानी हरप्रीत सिंह ने चंढोक को श्री अकाल तख्त पर तलब किया। सोमवार को चंढोक श्री अकाल तख्त साहिब पर गले में परना डालकर पेश हुए और उन्होंने अपनी गलती स्वीकार की। चंडेोक ने माना कि उन्होंने जिंदगी में पहली बार वीयर खरीदी थी लेकिन पिया नहीं था।

आगे से ऐसी गलती दोबारा नहीं होगी। इसके बाद गुरुग्रंथ साहिब की हजूरी और संगतों की मौजूदगी में जत्थेदार ज्ञानी हरप्रीत सिंह ने चंढोक को श्री अकाल तख्त साहिब के फसील से धार्मिक सजा सुनाई। सजा के तौर पर चंड़ोक को गुरुद्वारा बंगला साहिब तथा गुरुद्वारा शीशगंज साहिब में 3-3 दिन बर्तन मांजने, जूते-चप्पल (जोड़े) झाडऩे,कीर्तन सुनने की सेवा लगी है।

इसके अलावा गुरुद्वारा बंगला साहिब पर अखंड पाठ साहिब करवाने के बाद श्री अकाल तख्त साहिब पर भूल बख्साने की 5100/ रुपए के देग करवानी होगी। उधर, परमजीत सिंह चंढोक ने इसकी पुष्टि भी कर दी है। उन्होंने माना की उनसे गलती हुई है। अब धार्मिक सजा भुगतने के लिए तैयार हैं।

बता दें कि पिछले एक साल के भीतर चंडोक दिल्ली कमेटी के दूसरे सदस्य हैं, जिनको अकाल तख्त साहिब से सजा लगी है। इससे पहले अवतार सिंह हित को नीतीश कुमार की प्रशंसा में गुरुबानी पढ़ कर गलत करने पर सजा लगाई गई थी।

अकाल तख्त के फैसला सराहनीय : सरना

शिरोमणि अकाली दल (दिल्ली) के महासचिव हरविंदर सिंह सरना ने दिल्ली की सिख संगत की ओर से श्री अकाल तख्त साहिब के जत्थेदार का आभार जताया है। साथ ही कहा कि राजधानी दिल्ली में पंथक विरोधी और गुरमत विरोधी गतिविधियों का संज्ञान लेते हुए चीजों को सही रास्ते पर लाने की पहल में जत्थेदार ने गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के सलाहकार पर अभियोग लगाया है। ऐसा फैसला स्वागत योग्य है। सरना ने बताया, ‘सिंह साहिब ज्ञानी हरप्रीत सिंह ने परमजीत सिंह चंंढोक पर अभियोग लगा कर बहुत जरूरी कदम उठाया है। इससे बाकी लोगों को सबक मिलेगी। उन्होंने लोगों को आह़्वान भी किया कि वह सिक्खी को बचाने के लिए आगे आएं।

Tags:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *