LOADING

Type to search

रेलवे में 1 पद के लिए 288 दावेदार

टेक्नोलॉजी देश

रेलवे में 1 पद के लिए 288 दावेदार

Share

रेलवे आज से शुरू कर रहा है सबसे बड़ा भर्ती अभियान
–पैरा मेडिकल स्टाफ के विभिन्न श्रेणियों के 1923 पदों के लिए होगी परीक्षा
–परीक्षा में 4.39 लाख से ज्यादा अभ्यर्थी होंगे शामिल
— 62 फीसदी महिला उम्मीदवार, 28 ट्रांसजेंडर भी देंगे परीक्षा
–देशभर के 107 शहरों में 345 परीक्षा केंद्र बनाए गए
–हिंदी-अंग्रेजी सहित 15 भाषाओं में होगी परीक्षा
–आर्थिक रूप से पिछड़े वर्ग के उम्मीदवारों के लिए आरक्षण की व्यवस्था

(खुशबू पाण्‍डेय)

नई दिल्ली, 18 जुलाई (विशेष संवाददाता) भारतीय रेलवे पैरा मेडिकल स्टाफ के लिए देश भर में सबसे बड़ा भर्ती अभियान शुरू कर रहा है। इसके लिए विभिन्न श्रेणियों के 1923 पदों के लिए 19 जुलाई से कंप्यूटर आधारित परीक्षा आयोजित की जाएगी। ये परीक्षा 19 से 21 जुलाई तक प्रत्येक दिन तीन शिफ्ट में होगी, जिसमें 4.39 लाख से ज्यादा उम्मीदवार शामिल होंगे। परीक्षा के लिए देश के 107 छोटे बड़े शहरों में 345 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। कंप्यूटर आधारित यह परीक्षा 90 मिनट की अवधि की होगी, जिसमें निशक्तजनों को 30 मिनट का अतिरिक्त समय दिया जाएगा।
यह पहली बार है जब रेलवे द्वारा आयोजित किसी भर्ती परीक्षा में आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (ईडब्ल्यूएस) के उम्मीदवारों के लिए आरक्षण की व्यवस्था की गई है। प्रतिवर्ष कुल रिक्त पदों में से 10 प्रतिशत आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों (ईडब्ल्यूएस) के लिए आरक्षित करने की नई व्यवस्था के तहत इस परीक्षा में 4654 ईडब्ल्यूएस उम्मीदवार हिस्सा लेंगे।


जानकारी के मुताबिक परीक्षा में पेशे से जुड़े विषयों, सामान्य ज्ञान, अंकगणित, सामान्य विज्ञान तथा तार्किक और बौद्धिक क्षमता आंकने से संबधित बहुविकल्पीय वस्तुनिष्ठ प्रश्न होंगे। परीक्षा में प्रश्नपत्र अंग्रेजी और हिंदी सहित 15 अलग-अलग भाषाओं में उपलब्ध होंगे। उम्मीदवार अंग्रेजी के साथ ही परीक्षा के माध्यम के रूप में चुनी गई भाषा में भी प्रश्न पत्र प्राप्त कर सकेंगे। इस परीक्षा में सबसे ज्यादा 64,596 उम्मीदवार उत्तर प्रदेश से, 62,772 उम्मीदवार राजस्थान से, 38,097 महाराष्ट्र से तथा 35,496 केरल से शामिल होंगे।

रेलवे के इस भर्ती अभियान की खास बात यह है इसमें आवेदन करने वाले कुल उम्मीदवारों में से महिला उम्मीदवारों की संख्या पुरूष उम्मीदवारों से कहीं ज्यादा है। कुल उम्मीदवारों में से 62 प्रतिशत महिलाएं हैं। इसके अलावा इसमें 28 ट्रांसजेंडर उम्मीदवार भी भाग ले रहे हैं।
रेल मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी की माने तो चयनित उम्मीदवारों की नियुक्ति स्टाफ नर्स, डायटीशियन, स्वास्थ्य एवं मलेरिया जांच इंस्पेक्टर फार्मासिस्ट, ऑप्टोमेट्रिस्ट, और रेडियोग्राफर के पद पर की जाएगी। 50 प्रतिशत से अधिक उम्मीदवार स्टाफ नर्स के पद के लिए परीक्षा देंगे।

Tags:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *