LOADING

Type to search

दोस्तों व रिश्तेदारों को गिफ्ट में दीजिए अनोखा रेशम मास्क

देश स्वास्थ्य

दोस्तों व रिश्तेदारों को गिफ्ट में दीजिए अनोखा रेशम मास्क

Share

–खादी आयोग ने गिफ्ट के लिए लाया मास्क का नया अवतार
–गिफ्ट बाक्स में एक रेशम मास्क और तीन अन्य मास्क रंगों में होंगे
– तीन स्तरीय रेशम मास्क त्वचा के अनुकूल तैयार किया गया
-केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने लांच किया मास्क का उपहार बॉक्स

(अदिति सिंह)
नई दिल्ली/ टीम डिजिटल : अब आप अपने परिवार और दोस्तों को उपहार (गिफ्ट) में खास तौर पर तैयार किए गए खादी रेशम फेस मास्क का एक आकर्षक उपहार बॉक्स दे सकते हैं। इसके लिए खादी और ग्रामोद्योग आयोग की ओर से विशेष रूप से फेस मास्क और उसके लिए विशेष उपहार बाक्स भी तैयार किया गया है। गिफ्ट बाक्स में एक मुद्रित रेशम मास्क और तीन अन्य मास्क ठोस आकर्षक रंगों में होंगे। ये तीन स्तरीय रेशम मास्क त्वचा के अनुकूल,धोने योग्य, पुन: उपयोग योग्य, और स्वाभिवक रूप से सडऩशील हैं। सिल्क मास्क में तीन चुन्नट होते हैं और कान में लगाने वाले लूप को आसानी से समायोजित किया जा सकता है। खास बात यह है कि इसमें 100 प्रतिशत खादी सूती कपड़े की दो आंतरिक परतें और रेशम कपड़े की एक शीर्ष परत है। रेशम मास्क गिफ्ट बॉक्स की कीमत सिर्फ 500 रुपये प्रति बॉक्स है और अब दिल्ली -एनसीआर में खादी भंडार के सभी आउटलेट्स पर उपलब्ध है।


केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने खादी और ग्रामोद्योग आयोग द्वारा विकसित उपहार बॉक्स का शुभारंभ किया। गडकरी ने इसकी सराहना करते हुए कहा कि यह सुरक्षा सुनिश्चित करने के साथ त्योहारों का जश्न मनाने का एक उपयुक्त उत्पाद है। उन्होंने केवीआईसी की मास्क बनाने की पहल की सराहना करते हुए कहा कि इससे कारीगरों को कोरोना महामारी के सबसे कठिन समय के दौरान स्थायी आजीविका मिलती है।
बता दें कि उपहार बॉक्स में विभिन्न रंगों और प्रिंटों में चार दस्तकारी रेशम के मास्क होते हैं। मास्क को सुनहरा उभरे हुए मुद्रण के साथ एक सुंदर रूप से तैयार किए गए हस्तनिर्मित काले रंग के पेपर बॉक्स में पैक किया गया है।

विदेशी बाजार और त्योहारों को देखते हुए स्वदेशी मास्क लाए

इस बावत केवीआईसी के अध्यक्ष विनय कुमार सक्सेना की माने तो उपहार बॉक्स लॉन्च करने के पीछे का विचार विदेशी बाजार और त्योहारों के मौसम के दौरान अपने प्रियजनों के लिए उचित मूल्य के उपहारों की तलाश कर रहे एक बड़ी भारतीय आबादी की मांग को पूरा करना है। वैसे भी खादी के मास्क की डिमांड बहुत ज्यादा बढ़ गई है। राष्ट्रपति भवन, प्रधानमंत्री कार्यालय सहित कई केंद्रीय मंत्रालयों से खादी मास्क की डिमांड है। इसके अलावा जम्मू-कश्मीर सरकार, रेडक्रास सोसायटी सहित कई राज्यों ने भी खादी मास्क को प्रमुखता दी है।

Tags:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *