LOADING

Type to search

भारत में कब खत्म होगा कोरोना? वैज्ञानिकों की ये भविष्यवाणी

देश

भारत में कब खत्म होगा कोरोना? वैज्ञानिकों की ये भविष्यवाणी

Share

नई दिल्ली। सबके मन में अब सवाल उठ रहे हैं कि देश और दुनिया से आखिर कोरोना वायरस नाम की यह आफत कब खत्म होगी। गूगल पर लोग इस सवाल का जवाब ढूंढ रहे हैं। सिंगापुर यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नॉलजी ऐंड डिजाइन ने भारत में 24 मार्च तक कोरोना वायरस के 97 प्रतिशत खत्म होने की भविष्यवाणी की है। ये भविष्यवाणियां सिंगापुर की यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नोलॉजी एंड डिजाइन डेटा-ड्रिवेन इनोवेशन लैब (DDI) से आई हैं।

सिंगापुर यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नॉलजी ऐंड डिजाइन (SUTD) ने गणितीय मॉडल के जरिए बताया है कि अलग-अलग देशों में कोविड-19 महामारी कब खत्म होगी। DDI लैब की नवीनतम भविष्यवाणियों के अनुसार, भारत में मामले 1 अगस्त तक 100% समाप्त हो जाएंगे। दुनिया भर में, दूसरी ओर, उपन्यास कोरोनावायरस बीमारी COVID-19 के मामले 27 नवंबर तक जारी रह सकते हैं। SARS-CoV-2 के कारण होने वाली बीमारी दुनिया भर में 30 मई तक 97% और 16 जून तक 99% समाप्त हो जाएगी।

यह भी पढ़ें: दिल्ली में हॉटस्पाट बढ़ना चिंता की बात: डॉ हर्षवर्धन

सिंगापुर यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नॉलजी ऐंड डिजाइन की स्टडी में बताया गया है 29 मई तक वैश्विक स्तर पर कोरोना वायरस 97 प्रतिशत तक खत्म हो जाएगा। 15 जून तक दुनिया में कोरोना वायरस 99 प्रतिशत तक खत्म हो जाएगा और शत प्रतिशत खत्म होने में 26 नवंबर तक का वक्त लगेगा। डेटा से पता चलता है कि चीन, दक्षिण कोरिया, न्यूजीलैंड, ऑस्ट्रेलिया, वियतनाम और आइसलैंड पहले ही COVID-19 का 99% मतलब की महामारी के अंत तक पहुंच चुके हैं।

DDI के अनुमानों में दिखाए गए आंकड़ों के अनुसार, भारत ने 22 अप्रैल के आसपास कहीं न कहीं संक्रमण संचरण के चरम स्तर को पार कर लिया है। हालांकि, भारत के विशेषज्ञों का मानना ​​है कि चोटी का आना अभी बाकी है, और अगर नियंत्रण के उपाय प्रभावी रूप से जारी रहे, तो कोरोनावायरस का प्रसार हो सकता है। मई के अंत तक भारत में अपने चरम पर पहुंच जाएगा। वहीं, कोरोना का सबसे ज्यादा कहर झेल रहे अमेरिका में 14 मई तक 97 प्रतिशत कोरोना वायरस खत्म हो सकता है। 26 मई तक 99 प्रतिशत और 4 सितंबर तक अमेरिका से इस खतरनाक वायरस की पूरी तरह विदाई होने का अनुमान है।

Tags:

You Might also Like

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *