LOADING

Type to search

राहुल गांधी को सीधी चुनौती, हो जाएं 1962 से आज तक दो-दो हाथ

देश

राहुल गांधी को सीधी चुनौती, हो जाएं 1962 से आज तक दो-दो हाथ

Share

–गृहमंत्री अमित शाह की राहुल गांधी को सीधी चुनौती
–पार्लियामेंट होनी है, चर्चा करनी है तो आइये, करेंगे
–प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में भारत दोनों जंग जीतेगा
–राहुल गांधी के हैशटैग को चीन और पाकिस्तान ने बढ़ावा दिया

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल : केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने लद्दाख में हुई चीनी भिड़त की घटना पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी को संसद में बहस की चुनौती दे डाली है। साथ ही कहा कि संसद में बहस करें और 1962 से आज तक दो-दो हाथ हो जाएंगे। गृह मंत्री अमित शाह ने राहुल गांधी की ओर से किए गए सरेंडर मोदी वाले ट्वीट को लेकर उन पर निशाना साधा। साथ ही कहा कि उनको इस मुद्दे पर भी बहस करनी चाहिए। अमित शाह ने कहा कि राहुल गांधी के हैशटैग को चीन और पाकिस्तान ने बढ़ावा दिया है। उनके ट्वीटर उनकी ओर से चलाए जा रहे हैशटैग चीन और पाकिस्तान का समर्थन मिल रहा है। जब देश के जवान संघर्ष कर रहे हों, सरकार स्टैंड लेकर ठीक कदम उठा रही है, उस वक्त पाकिस्तान और चीन को खुशी हो इस प्रकार के बयान किसी को नहीं देने चाहिए।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि पार्लियामेंट होनी है, चर्चा करनी है तो आइये, करेंगे। 1962 से आज तक दो-दो हाथ हो जाएं। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी इस समय एक घटिया सोच वाली राजनीति कर रहे हैं। लिहाजा,चीन के मुद्दे पर बहस के लिए तैयार हैं।
एक न्यूज एजेंसी से बातचीत के दौरान उन्होंने कहा कि साफ कर दूं कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में भारत दोनों ही लड़ाई जीतने जा रहा है। उनका यह बयान कोरोना और सीमा पर जारी तनाव को लेकर था।

यह भी पढें...दिल्लीवासी घबराएं नहीं, नहीं है दिल्ली में कम्युनिटी ट्रांसमिशन की स्थिति

उन्होंने कहा कि भारत सरकार कोरोना से बहुत अच्छी से लड़ रही है। इस दौरान गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि वह राहुल गांधी को सलाह नहीं दे सकते हैं यह उनके पार्टी नेताओं की काम है। कुछ लोगों की वक्रदृष्टि होती है ऐसे लोग सही में भी हमेशा गलत ढूंढते हैं।अमित शाह ने कहा कि कोरोना से भारत अच्छी तरह से लड़ा है और हमारे नंबर बाकी देशों से अच्छे हैं। मोदी जी के नेतृत्व में भारत कोरोना के विरुद्ध बहुत अच्छे से लड़ा है और दुनिया के विकसित देशों की तुलना में हमारी बेहतर स्थिति इसका परिणाम है। भारत में कोरोना संक्रमण दर प्रति मिलियन 357 है जबकि अंतरराष्ट्रीय आंकड़ा 1250 है। आज हमारा रिकवरी रेट 57 प्रतिशत है जो मार्च में 7.1 प्रतिशत था।

कोरोना संकट के समय ओछी राजनीति कर रहे हैं राहुल

गृहमंत्री शाह ने कहा कि वो भारत के खिलाफ चलाए जा रहे प्रोपेगेंडा से निपटने में सक्षम हैं लेकिन यह दुख की बात है कि एक बड़ी पार्टी के पूर्व अध्यक्ष कोरोना संकट के समय ओछी राजनीति कर रहे हैं। यह विषय उनके और उनकी पार्टी के लिए फिर से विचार के लिए है। हालांकि कांग्रेस नेता को ओछी राजनीति करना बंद कर देना चाहिए।
बता दें कि 15 जून को लद्दाख में गलवान घाटी में चीन और भारतीय सैनिकों की झड़प में हमारे 20 जवानों की जान कुर्बान हुई थी। इसके बाद से कांग्रेस नेता राहुल गांधी पीएम मोदी पर चीन के सामने सरेंडर करने का आरोप लगा रहे हैं। राहुल गांधी ने अपने एक ट्वीट में लिखा- नरेंद्र मोदी वास्तव में सरेंडर मोदी है, जिसके बाद से बीजेपी राहुल गांधी की आलोचना कर रही है।

इंदिरा जी के बाद क्या गांधी परिवार के अलावा भी कोई अध्यक्ष रहा

कांग्रेस पर निशाना साधते हुए गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि इंदिरा जी के बाद क्या गांधी परिवार के अलावा भी कोई अध्यक्ष रहा है। किस लोकतंत्र की वे बात कर रहे हैं। मैंने कोरोना संकट के समय किसी भी तरह की राजनीति नहीं की है। मैं बीते 10 सालों से 25 जून के दिन ट्वीट करता हूं। उन्होंने कहा कि आपातकाल को लोगों को हमेशा याद रखना चाहिए क्योंकि इसने लोकंतत्र की जड़ों पर हमला किया। किसी भी नागरिक या राजनीतिक कार्यकर्ता को भूलना नहीं चाहिए।

Tags:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *