Wednesday, 13 December 2017
Blue Red Green

सस्ता हो सकता है इंटरनेट का इस्तेमाल

वित्त वर्ष 2013-14 के केंद्रीय बजट में ब्रॉडबैंड सेवाओं पर सर्विस टैक्स खत्म होने का ऐलान हो सकता है, जिससे आप सस्ते इंटरनेट का इस्तेमाल कर सकते हैं।

ब्रॉडबैंड और इंटरनेट सेवाएं फिलहाल सर्विस टैक्स के दायरे में आती हैं। इस तरह से आने वाले समय में इंटरनेट आपके पॉकेट होगा इसमें कोई शक नहीं है!

डिपार्टमेंट ऑफ टेलीकॉम (डॉट) के सूत्रों के मुताबिक मंत्रालय की तरफ से इस संबंध में वित्त मंत्रालय को सिफारिश भेज दी गई है और  केंद्रीय बजट में ब्रॉडबैंड सेवाओं पर सर्विस टैक्स खत्म होने की उम्मीद है।

खबरों के मुताबिक इंटरनेट सेवाओं के विस्तार के लिए मंत्रालय ने वर्ष 2017 तक 17.5 करोड़ ब्रॉडबैंड ग्राहकों का लक्ष्य तय किया है लेकिन इंटरनेट सेवा महंगी पडऩे के चलते यह लक्ष्य पूरा होना मुश्किल है।

फिलहाल इंटरनेट सेवाओं को किफायती बनाने के मकसद से सर्विस टैक्स खत्म करने की सिफारिश भेजी गई है।

खास:रिम का 10 ओएस ब्लैकबेरी!

ब्लैकबेरी बनाने वाली कनेडियन कंपनी रिसर्च इन मोशन (रिम) आईफोन 5, सैमसंग गैलेक्सी एस 3 और नोट 2 के मुकाबले अपना नया ब्लैकबेरी 10 ओएस लांच कर दिया। ब्लैकबेरी 10 अपने फीचर्स से मोबाइल उपभोक्ताओं को लुभाएगा।

यह फोन खूबियों से भरा है जानते हैं इसकी खूबियां-

की-बोर्ड: इसका नया टच की बोर्ड और तेज चलने वाला ब्राउजर इसकी खूबियों में से एक है। इस फोन में फिलिकल की-बोर्ड ऑप्‍शन नहीं है, यह फुल टच स्क्रीन फोन है। जो इस नए मॉडल की सबसे बड़ी खूबी है।

बैलेंस फीचर: ब्लैकबेरी 10 में बैलेंस फीचर दिया गया है जो पर्सनल लाइफ और ऑफीशियल लाइफ का बैलेंस रखेगा। इस स्‍मार्टफोन में पर्सनल डेटा और ऑफीशियल डेटा अलग-अलग रख सकते हैं।

स्पोर्ट कैमरा: ब्लैकबेरी 10 में शानदार स्‍पोर्ट कैमरा है जिसमें मौजूद टाइम शिफ्ट का फीचर की मदद से मिलिसेकेंड के अंतर में फोटो कैपचर किया जा सकता है। यानी आप एक्सप्रेशन्स को बेहतर तरीके से कैप्चर कर सकते हैं।

वन स्टॉप शॉप: ब्लैकबेरी 10 में हर तरह की मैसेजिंक के लिए वन स्टॉप शॉप है जहां बीबीएम, ई-मेल, सोशल मीडिया को अपडेट रखने के साथ टेक्स्ट मैसेज साथ हैं।

होम बटन: ब्‍लैकबेरी 10 में कोई भी होम बटन नहीं दी गई है। इसमें गश्‍चर बेस होम पेज ऑप्‍शन दिया गया है जो इस अन्य स्मार्ट फोन्स से अलग बनाता है।


Amount of short articles:
Amount of articles links:

Photo Gallery

Poll

सही है, तथ्यों पर आधारित लेख है - 100%
गलत है, धार्मिक भावनाएं आहत हुई हैं - 0%
बता नहीं सकते - 0%