Tuesday, 19 June 2018
Blue Red Green

Home राज्य दिल्ली-एनसीआर

पोस्टरों ने दिल्ली की लड़कियों को मोदी से किया 'आगाह'

नई दिल्ली
गुजरात सरकार ने भले युवती जासूसी कांड में जांच आयोग गठित कर दिया हो, इस कांड से मोदी का आसानी से पीछा छूटता नहीं दिख रहा। किसी न किसी रूप में इस प्रकरण का इस्तेमाल चुनाव में उनके खिलाफ माहौल बनाने के लिए लगातार किया जा रहा है। ताजा वाकया दिल्ली का है जहां एक संगठन ने पोस्टर बांटकर लड़कियों को आगाह किया कि 'साहेब' दो दिनों से दिल्ली में हैं, वे संभल कर रहें।

गौरतलब है कि युवती जासूसी कांड सामने आने के बाद से ही बीजेपी और मोदी के विरोधियों ने उनके खिलाफ इसका इस्तेमाल शुरू कर दिया। कांग्रेस की तरफ से कई नेताओं ने फेंकू के बदले उन्हें 'साहेब' कहना शुरू कर दिया। मोदी के शहजादे के खिलाफ कांग्रेस नेता 'साहबजादे' का इस्तेमाल करने लगे।

शनिवार सुबह दिल्ली में अखबारों के साथ एक पोस्टर बंटवाया गया। इसमें मोदी की तस्वीर के साथ लिखा गया है कि दिल्ली की लड़कियो, सावधान। अगले दो दिन साहेब शहर में हैं। इसके बाद 'लड़कियों की सहायता के लिए' ऐंटि स्टॉकिंग हेल्पलाइन नंबर का उल्लेख किया गया है।

'मामी की खूबसूरती से प्रभावित था, बनाना चाहता था संबंध'

दिल्ली,दिल्ली के कल्याण पुरी में सोमवार सुबह गला घोंटने के बाद मामी की गोली मारकर हत्या करने वाले आरोपी भांजे को पुलिस ने उसके दोस्त समेत गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों की पहचान भांजे राजा और उसके दोस्त विक्की के रूप में हुई है।

राजा मामी की सुंदरता से प्रभावित था और वह उससे संबंध बनाना चाहता था। विरोध करने पर आरोपी ने उसकी हत्या कर दी। वारदात के बाद राजा ने विक्की के पास तमंचा छुपा दिया था। पुलिस ने वारदात में इस्तेमाल तमंचा और तीन कारतूस बरामद किए हैं।

पूर्वी जिला पुलिस उपायुक्त अजय कुमार ने बताया कि 25 नवंबर की सुबह पुलिस को सूचना मिली थी कि त्रिलोकपुरी इलाके में कविता (25) को घर में घुसकर राजा ने गोली मार दी।

मौके पर पहुंची पुलिस ने कविता को एलबीएस अस्पताल पहुंचाया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। छानबीन के दौरान पुलिस को पता चला कि आरोपी ने गोली मारने से पहले पीड़िता का गला भी घोंटा था। पुलिस ने राजा को आनंद विहार बस अड्डे से दबोच लिया।

पुलिस ने राजा की निशानदेही पर विक्की के पास से तमंचा बरामद कर उसे भी गिरफ्तार कर लिया। राजा ने बताया कि वह मामी की सुंदरता से प्रभावित था, इसलिए संबंध बनाना चाहता था। इसकी जानकारी मामी ने मामा को दी थी। मामा का उससे झगड़ा भी हुआ था। घटना वाले दिन वह मामी से संबंध बनाने के इरादे से गया था।

शीला के चैलेंजर ने कहा, 'UPA नामर्द'

दिल्ली के सरोजिनी नगर बाजार में शीला दी‌क्षित को चुनौती दे रहे भाजपा उम्मीदवार विजेंद्र गुप्ता के समर्थक उन्हीं के मुखौटे लगाए उनका इंतजार कर रहे थे। और आते ही उन्होंने कांग्रेस पर हमला किया।

विजेंद्र गुप्ता ने कहा, "मैं यहां कांग्रेस को बेनकाब करने आया हूं। उन्होंने अपने हथियार डाल दिए हैं।"

उन्होंने कहा कि यूपीए सरकार नामर्द है, जो सरहद पर भारतीय सैनिकों के सिर काट दिए जाते हैं और वह कुछ नहीं करती।

विजेंद्र ने कहा, "जब पाकिस्तान हमें आंख दिखा रहा था, तब सरकार क्या कर रही थी? हमारे सिपाहियों के सर काट ‌दिए, तब उन्होंने क्या किया? उनकी मर्दानगी कहां गई? नामर्द हैं क्या यह?"

उन्होंने कहा, "कांग्रेस सत्ता में दोबारा नहीं आने वाली। यह साफ दिख रहा है। वे अभी से आम आदमी पार्टी के साथ गठबंधन की बात कर रहे हैं।"

वह शीला दीक्षित के बयान की बात कर रहे थे, जिसमें उन्होंने सारे दरवाजे खुले रखने की बात कही। शीला ने कहा था, "मैं अभी इस पर टिप्पणी नहीं करना चाहती। मैं न इस पर हां कह रही हूं और न ही इनकार कर रही हूं।"

मदर डेयरी ने दिल्ली-एनसीआर में दूध के दाम 2 रुपये लीटर बढ़ाये

दिल्ली-एनसीआर में दूध की आपूर्ति करने वाली मदर डेयरी ने बढ़ती लागत के चलते कल से दूध की कीमत 2 रुपये प्रति लीटर बढ़ा दी है.

फुल क्रीम दूध की कीमत 42 से बढ़ाकर 44 रुपये लीटर, जबकि टोन्ड दूध की कीमत 32 रुपये से 34 रुपये प्रति लीटर कर दी गई है. डबल टोन्ड दूध की कीमत अब 28 रुपये के बजाय 30 रुपये लीटर होगी. खुला दूध 30 रुपये के बजाय 32 रुपये प्रति लीटर पर मिलेगा.

मदर डेयरी ने कहा कि वह अपने सभी तरह के दूध की कीमतों में वृद्धि करने के लिए बाध्य है. कंपनी ने कहा कि बढ़ती लागत के कारण वह उपभोक्ता मूल्य बढ़ाने के लिए बाध्य है ताकि किसानों को लाभकारी मूल्य दिया जा सके और दूध की सतत उपलब्धता हो सके.

सवा 3 लाख रेलकर्मियों को दीपावली का तोहफा

नई दिल्ली,  : रेलकर्मचारियों की विभिन्न मांगों को लेकर दिसम्बर में आयोजित देशव्यापी हड़ताल अब फिलहाल नहीं होगी। रेलकर्मियों के संगठन नेशनल फेडरेशन आफ इंडियन रेलवे मैन ने आज इसकी घोषणा नई दिल्ली में की। संगठन के मुताबिक भारत सरकार ने उनकी कई मांगों को मान लिया है, जिससे लाखों रेल कर्मियों को फायदा होगा। रेलकर्मियों की सबसे पुरानी मांग योग्य गु्रप सी स्टाप को गु्रप बी गजेटिड के पद पर पदोन्नत करने की स्वीकृति भी रेलवे ने दे दी है। इसके अलावा कई अन्य मांगों को भी स्वीकृति की हरी झंडी मिलने की संभावना है। संगठन के महामंत्री एम रघुवईया के मुताबिक यह चुनावी साल है जो कि लाखों रेलकर्मियों के लिए खुशियों की सौगात लेकर आया है। करीब सवा तीन लाख रेलकर्मियों की पदोन्नति देने का रास्ता साफ हो गया है और अब वह दिन दूर नहीं है जब सुपरवाइजऱ भी अघिकारी बन सकेगे। रेलवे बोर्ड की मंगलवार को हुई बैठक में लिए गए इस निर्णय के मुताबिक लगभग साढ़े तीन हजार ग्रुप सी के स्टाफ को गु्रन बी गजेटिड पद पर पदोन्नत किया जाएगा।
उधर, सूत्रों का दावा है कि रेेलवे बोर्ड के वित्त कमीशन के निदेशक विक्रम गुलाटी ने सभी जोनल प्रबंघकों और महानिदेशकों को एक सर्कुलर जारी कर दिया है। उनके मुताबिक ग्रुप सी यानी सुपरवाइजर स्तर के कर्मचारियों के कैडर रिव्यू को बोर्ड ने मंजूरी दे दी है।  सर्कुलर के मुताबिक ग्रुप सी में आठ वर्ग हैं जिनमें लगभग 52 तरह के पद हैं। सूत्रों का दावा है कि आगामी एक नवंबर से इस योजना को लागू कर दिया जाएगा।


केडर रिव्यू योजना को भी स्वीकृति, कौन-कौन होंगे लाभांवित
रेलवे सूत्रों की माने तो कैडर रिब्यू योजना को भी स्वीकृति मिल गई है, जिसमें स्टेशन मास्टर, सहयक स्टेशन मास्टर, ट्रैफिक कंर्टेलर, ट्रेन क्लर्क, कैबिन मैन, शंटिग मास्टर, शंटिग जमादार, लीवर मैन, पवाइंट मैन, शंट मैन, गुडस गार्ड, सहायक गार्ड, ब्रेक मैन लाभांवित होंगे। इसके अलावा  ट्रैफिक या मैकेनिकल रनिंग रुम के रसोइया, लोको पायलट, कमर्शियल क्लर्क, रिजर्वेशन क्लर्क, टीसी, कमर्शियल इंस्पेक्टर, टेक्नीकल सुपरवाइजर, डिजाइन स्टाफ, सिगनल मैंटेनर, टेलीफोन आपरेटर, कैमिकल एण्ड मेटेलर्जिकल स्टाफ, डिपो मेटेरियल सुपरिटेंडेंट, शिपिंग इंस्पेक्टर, फार्मासिस्ट, कैमिस्ट, लैब सुपरिटेंडेंट, डाइटिशियन, हैल्थ एण्ड मलेरिया इंस्पेक्टर, लैब टेक्नीशियन, असिसटेंट कैमिस्ट, एक्स रे स्टाफ, फिजियोथेरेपिस्ट, स्टॉक वेरिफायर, फिंगर पिं्रट जांचकर्ता, खजांची, स्टाफ एण्ड वेलफेयर इंस्पेक्टर, राजभाषा अघिकारी, सांख्यिकि निरीक्षक, प्रचार निरीक्षक आदि केडर रिव्यू योजना के दायरे में आएंगे। संगठन के वरिष्ठ पदाधिकारी एसएन मलिक ने इसकी पुष्टि भी कर दी है।


Amount of short articles:
Amount of articles links:

Photo Gallery

Poll

सही है, तथ्यों पर आधारित लेख है - 100%
गलत है, धार्मिक भावनाएं आहत हुई हैं - 0%
बता नहीं सकते - 0%

  Search