Monday, 18 June 2018
Blue Red Green

Home दुनिया

विश्व के शीर्ष 400 विश्वविद्यालयों में पांच भारतीय विश्वविद्यालय

लंदन,विश्व के शीर्ष बेहतरीन विश्वविद्यालयों की रैंकिंग में भारत की स्थिति में काफी सुधार हुआ है और इसके पांच विश्वविद्यालय विश्व के शीर्ष 400 श्रेष्ठ विश्वविद्यालयों की सूची में शामिल होने में कामयाब हो गए हैं। वर्ष 2012 में यह आंकड़ा तीन का था।
टाइम्स हायर एजुकेशन वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग 2013-14 में पंजाब यूनिवर्सिटी इस सूची में पहली बार शामिल हुई है जिसके बाद दो नए संस्थानों ने भी इसमें जगह बनाई है जिनमें आईआईटी दिल्ली और कानपुर शामिल हैं। दोनों नए आईआईटी सूची में पहले से मौजूद आईआईटी खड़गपुर के साथ शामिल हो गए हैं।
आईआईटी खड़गपुर 351 से 400 नंबर के समूह में 226 से नीचे जाकर 250 वें नंबर पर आ गया है। आईआईटी रुड़की ने 351 से 400 के समूह में अपना स्थान बरकरार रखा है। टाइम्स हायर एजुकेशन वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग के संपादक फिल बेटी ने कहा कि ये परिणम भारत के लिए उत्साहजनक होने चाहिए। जहां पहले एक भी भारतीय संस्थान इसमें शामिल नहीं था , वहीं अब शीर्ष 400 की सूची में भारत के पांच संस्थानों का नाम दर्ज हो गया है। यह ग्लोबल रैंकिंग के प्रति बढ़ती प्रतिबद्धता का संकेत है।
रैंकिंग में भारत के प्रतिनिधित्व में इजाफे का श्रेय मई में दो दिवसीय नेशनल पालिसी डायलाग बैठक को जाता है जिसमें भारत के मानव संसाधन विकास मंत्रालय और योजना आयोग ने टाइम्स हायर एजुकेशन के प्रतिनिधियों को विश्वविद्यालय के वरिष्ठ अधिकारियों से मुलाकात के लिए आंमत्रित किया गया था।

चार भारतीय कैदियों को रिहा करेगा पाकिस्तान

लाहौर: सुप्रीम कोर्ट के दो जजों वाले संघीय समीक्षा बोर्ड ने पाकिस्तान की विभिन्न जेलों में ‘अवैध प्रवास’ के आरोपों में बंद चार भारतीय कैदियों को रिहा करने का आदेश दिया है।

दिलबाग सिंह, सुनील और दो अन्य भारतीय अपनी सजा की अवधि पूरी कर चुके हैं, लेकिन इसके बावजूद वे जेलों में बंद हैं।

गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने कल बोर्ड को सूचित किया था कि सरकार सजा की अवधि पूरी कर चुके कैदियों को वापस भेजे जाने के लिए कदम उठा रही है।

उन्होंने कहा, विदेशी कैदियों की रिहाई के लिए उनकी नागरिकता की पुष्टि किए जाने की जरूरत है और यह प्रक्रिया जारी है। इस बीच, लाहौर हाईकोर्ट के तीन जजों वाले प्रांतीय समीक्षा बोर्ड ने वर्ष 2009 में श्रीलंकाई क्रिकेट टीम पर हमले में शामिल ‘मुख्य संदिग्ध’ की हिरासत अवधि को बढ़ाए जाने की पंजाब सरकार की अपील को नामंजूर कर दिया।

पुलिस ने कल जुबैर उर्फ नायक मोहम्मद को समीक्षा बोर्ड के समक्ष पेश किया था और उसकी हिरासत अवधि को एक माह के लिए बढ़ाए जाने की मांग की थी।

पुलिस का कहना था कि आरोपी की रिहाई से प्रांत में कानून व्यवस्था की स्थिति खतरे में पड़ सकती है। कैदी के वकील ने सरकार की अपील का विरोध करते हुए कहा कि उनके मुवक्किल पर लगाए गए आरोप बेबुनियाद हैं। दोनों पक्षों को सुनने के बाद बोर्ड ने आरोपी की हिरासत अवधि बढ़ाने की सरकार की अपील को नामंजूर कर दिया।

पाकिस्तानी हिंदू परिवार के 18 सदस्यों ने इस्लाम स्वीकार किया

लाहौर: पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के खानपुर इलाके में हिंदू परिवार के 18 सदस्यों ने इस्लाम धर्म स्वीकार कर लिया है।

स्थानीय लोगों का कहना है कि सात पुरुषों और 11 महिलाओं ने मंगलवार को एक समारोह में इस्लाम धर्म स्वीकार किया। यह समारोह ख्वाजा गुलाम फरीद के संरक्षक मियां गौस मोहम्मद की देखरेख में आयोजित हुआ था।

सरकारी समाचार एजेंसी एपीपी के अनुसार परिवार के मुखिया समाराम ने अपना नया नाम मोहम्मद शरीफ रखा है। समारोह में इलाके के कई प्रमुख लोग मौजूद थे।

पाकिस्तान के सिंध प्रांत में हिंदू समुदाय के लोगों का जबरन धर्मांतरण किए जाने की खबरें पहले भी आती रही हैं।

हिंदू समुदाय के नेताओं का आरोप रहा है कि समुदाय की कई महिलाओं का अपहरण किया गया तथा जबरन उनकी शादी मुस्लिम युवकों से करा दी गई।

Subcategories


Amount of short articles:
Amount of articles links:

Photo Gallery

Poll

सही है, तथ्यों पर आधारित लेख है - 100%
गलत है, धार्मिक भावनाएं आहत हुई हैं - 0%
बता नहीं सकते - 0%