Thursday, 18 January 2018
Blue Red Green

वेश्याएं हैं आइटम गर्ल्स

See photo

नई दिल्ली। खुद को समाज का पहरुआ साबित करने का दंभ भरनेवाली हिंदू महासभा और इससे जुड़े लोगों की समाज के प्रति क्या मानसिकता है, इसे जानकर आप हैरान रह जाएंगे। हिंदू महासभा के उत्तर प्रदेश यूनिट के महासचिव नवीन त्यागी ने हमारे सहयोगी अंग्रेजी न्यूज चैनल टाइम्स नाउ की रिपोर्टर से 'ऑफ द कैमरा' बातचीत में कहा कि अंग प्रदर्शन करनेवाली लड़कियां, जो खुद को आइटम गर्ल्स कहा करती हैं, उन्हें वह कलाकार तो कभी नहीं कह सकते। उनकी (नवीन की) नजर मेें तो वे (आइटम गर्ल्स) वेश्याएं हैं। बातचीत में उन्होंने आइटम गर्ल्स के सामाजिक बहिष्कार करने की भी वकालत कर डाली।

नवीन ने कहा, 'वैसी हर लड़कियां और औरतें जो स्क्रीन पर अंग प्रदर्शन करती हैं और खुद को आइटम गर्ल्स वगैरह कहती हैं, वह वाकई में वेश्या हैं।' वह यहीं नहीं रुके उन्होंने आगे कहा कि यूपी हिंदू महासभा जनवरी 2015 में सुप्रीम कोर्ट से आग्रह करेगी कि वह इन 'तथाकथित' आइटम गर्ल्स को वैश्या का दर्जा दे।

इसपर जब रिपोर्टर ने पूछा कि क्या इसके लिए तैयारियां की जा चुकी हैं और क्या सुप्रीम कोर्ट उनकी दलील मान लेगा तो नवीन त्यागी ने कहा, 'इस संबंध में सारे कागजात तैयार कर लिए गए हैं। तैयारियां लगभग पूरी हो गई हैं। जहां तक बात सुप्रीम कोर्ट के हमारी दलील मानने की बात है तो हमारे साथ कोई छोटे वकील तो हैं नहीं। हमारे साथ बहुत बड़े-बड़े वकील हैं। साथ ही हमने सुप्रीम कोर्ट को आश्वस्त करने के लिए उसे कुछ विडियो क्लिप्स भी सौंपेंगे जो उनके दावे को पुष्ट करेंगे।' उन्होंने कहा कि अगर एक बार सुप्रीम कोर्ट उनकी दावे पर मुहर लगा दे तो फिर वह ऐसी लड़कियों और औरतों का सामाजिक बहिष्कार करेंगे।

दरअसल, टाइम्स नाउ की रिपोर्टर अखिल भारत हिंदू महासभा के उपाध्यक्ष धर्मपाल सिवाच के हाल में आए उस बयान को लेकर नवीन त्यागी का पक्ष जानना चाहती थीं जिसमें उन्होंने (धर्मपाल सिवाच ने) कहा था कि समाज में अश्लीलता फैलाने के लिए लड़कियों के अभद्र पहनावे जिम्मेदार हैं।

हालांकि, धर्मपाल के इस बायन पर मचे बवाल के बाद हिंदू महासभा ने सफाई देते हुए कहा कि वह लड़कियों की स्वतंत्रता के खिलाफ नहीं है। संगठन के हरियाणा यूनिट के प्रवक्ता ललित भारद्वाज ने कहा कि धर्मपाल सिवाच जी तो हरियाणा की बहादुर बहनों पूजा और आरती को सम्मानित करेंगे।
बहरहाल, यूपी हिंदू महासभा के जनरल सेक्रट्री नवीन त्यागी से जब कहा गया कि वह कैमरे के सामने अपने विचार रखें तो उन्होंने ऐसा करने से मना कर दिया। उन्होंने कहा कि वह अभी इस मुद्दे पर बयान नहीं देंगे। हालांकि, उन्हें पता नहीं था कि पूरी बातचीत कैमरे में रिकॉर्ड हो चुकी है।

Add comment


Security code
Refresh


Amount of short articles:
Amount of articles links:

Photo Gallery

Poll

सही है, तथ्यों पर आधारित लेख है - 100%
गलत है, धार्मिक भावनाएं आहत हुई हैं - 0%
बता नहीं सकते - 0%