Friday, 21 September 2018
Blue Red Green

मुंबई बना आईपीएल-6 का चैंपियन

मुंबई बना आईपीएल-6 का चैंपियन
कोलकाता, । कीरोन पोलार्ड की विस्फोटक पारी और गेंदबाजी के तूफान के दम पर मुंबई इंडियंस ने चेन्नई सुपर किंग्स को 23 रन से हराकर आईपीएल-6 का खिताब अपने नाम कर लिया। जीत के लिए मिले 149 रन के लक्ष्य के सामने चेन्नई की टीम 20 ओवर में नौ विकेट खोकर 125 रन बना सकी। चेन्नई के लिए कप्तान महेंद्र सिंह धौनी ने सर्वाधिक नाबाद 63 रन बनाए।

इससे पहले मुंबई इंडियन्स ने नौ विकेट पर 148 रन का स्कोर खड़ा किया। पोलार्ड ने केवल 32 गेंदों पर सात चौकों और तीन छक्कों की मदद से नाबाद 60 रन बनाए। उनके अलावा अंबाती रायुडु ने 37 रन का योगदान दिया। आईपीएल में छह में सर्वाधिक 32 विकेट लेकर पर्पल कैप हासिल करने वाले ब्रावो ने 42 रन देकर चार जबकि एल्बी मोर्कल ने तीन ओवर में 12 रन देकर दो विकेट लिए।
 
स्पॉट फिक्सिंग के साए में ईडन गार्डन्स पर खेले जा रहे फाइनल में रोहित शर्मा का उमस भरे वातावरण में पहले बल्लेबाजी का फैसला उलटा पड़ गया। मुंबई ने पहली 20 गेंद और 16 रन के अंदर दोनों सलामी बल्लेबाज और कप्तान का विकेट गंवा दिया। पिछले दो मैचों अर्धशतक जमाने वाले ड्वेन स्मिथ (4) पहले ओवर में ही मोहित शर्मा की गेंद को आगे बढ़कर रक्षात्मक रूप से खेलने के प्रयास में एलबीडब्ल्यू आउट हो गए। मोर्कल ने अगले ओवर की पहली गेंद पर आदित्य तारे को बोल्ड कर दिया। कप्तान रोहित ने तो चेन्नई को अपना विकेट इनाम में दिया। मोर्कल के अगले ओवर में उन्होंने शार्ट पिच गेंद पर वापस गेंदबाज को कैच थमाया। दिनेश कार्तिक (26 गेंद पर 21 रन) और रायुडु ने अगले छह ओवर तक विकेट नहीं गिरने दिया जो तब मुंबई के लिये जरूरी था। क्रिस मौरिस ने कोण लेती गेंद पर कार्तिक को बोल्ड करके रायुडु के साथ उनकी 36 रन की साझेदारी तोड़ी। दसवें ओवर तक स्कोर 58 रन था लेकिन पोलार्ड के क्रीज पर कदम रखने के बाद स्कोर ने कुछ गति पकड़ी। इस कैरेबियाई आलराउंडर ने आर अश्विन पर पारी का पहला छक्का जमाया और फिर रविंदर जडेजा पर दो चौके जड़े। जब लग रहा था कि मुंबई की स्थिति सुधर रही है तब ब्रावो ने रायुडु का मिडिल स्टंप उखाड़ दिया। रायुडु ने अपनी पारी में चार चौके लगाए और पोलार्ड के साथ पांचवें विकेट के लिए 48 रन जोड़े। पोलार्ड का साथ देने के लिए क्रीज पर उतरे हरभजन ने ब्रावो के अगले ओवर में तीन चौके जड़े लेकिन आखिर में गेंदबाज की चली। हरभजन फ्रंट फुट पर आकर सही टाइमिंग से शाट नहीं जमा पाए और डीप कवर में माइकल हसी ने कैच करने में कोई गलती नहीं की। ब्रावो ने अपने आखिरी ओवर में मिशेल जॉनसन और लेसिथ मालिंगा को भी आउट करके इस सत्र में अपने विकेटों की संख्या 32 पर पहुंचाई लेकिन पोलार्ड ने उनकी आखिरी दो गेंदों पर छक्के जड़कर स्कोर 150 रन के करीब पहुंचाया।

खेलों में सट्टेबाजी से निपटने को नया कानून लाएगी सरकार

नई दिल्ली : आईपीएल मैचों में स्पॉट फिक्सिंग विवाद को देखते हुए खेल मंत्रालय ने खेलों में सट्टेबाजी से निपटने के इरादे से नए कानून का मसौदा तैयार करने के लिए कानून मंत्रालय के साथ सलाह मशविरा शुरू कर दिया है। कानून मंत्री कपिल सिब्बल ने आज यहां कहा, ‘हां, मैंने खेल मंत्री जितेंद्र सिंह से बात की है। सट्टेबाजी से निपटने के लिए हम जल्द ही नए कानून का मसौदा तैयार करेंगे।’ सिब्बल ने कहा कि जब इस तरह के विवाद होते हैं तो लोगों का खेलों पर से भरोसा टूटता है।

इंडियन प्रीमियर लीग को करारा झटका लगा जब दिल्ली पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ ने एस. श्रीसंत और राजस्थान रायल्स टीम के उनके दो साथियों अजीत चंदीला और अंकित चव्हाण को गुरुवार को कम से कम तीन आईपीएल मैचों में सट्टेबाजों के साथ बनाई योजना के तहत स्पाट फिक्सिंग के आरोप में गिरफ्तार किया। दिल्ली पुलिस ने आज स्पॉट फिक्सिंग प्रकरण में तीन और लोगों को गिरफ्तार किया जिसमें एक पूर्व रणजी खिलाड़ी भी शामिल है।

पुलिस ने मुंबई, चंडीगढ़, कोलकाता और हैदराबाद के होटलों को सीसीटीवी फुटेज मुहैया कराने को कहा है जिससे कि गिरफ्तार किए गए तीनों क्रिकेटरों की स्पॉट फिक्सिंग प्रकरण में सट्टेबाजों के साथ हुई बैठकों की जानकारी ली जा सके। पुलिस इसके अलावा खिलाड़ियों की आवाज के नमूने एकत्रित करने के लिए स्वीकृति लेने की भी योजना बना रही है।

मुंबई ने राजस्थान को 14 रन से हराया

मुंबई: मुंबई इंडियंस ने अपनी श्रेष्ठता साबित करते हुए एक बार फिर इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के छठे संस्करण की अंक तालिका में पहला स्थान हासिल कर लिया है। मुम्बई ने अपने हरफनमौला खेल के दम पर बुधवार को वानखेड़े स्टेडियम में खेले गए लीग के 66वें और अपने 15वें मुकाबले में 2008 की चैम्पियन राजस्थान रॉयल्स को 14 रनों से हरा दिया।

मुम्बई ने 15 में से 11 मैच जीते हैं जबकि चार में उसकी हार हुई है। दूसरी ओर, राजस्थान ने भी 15 मैच खेले हैं, जिनमें से 10 में उसकी जीत हुई है। चेन्नई सुपर किंग्स ने मंगलवार को दिल्ली डेयरडेविल्स को हराते हुए 22 अंकों के साथ मुम्बई को पहले स्थान से हटा दिया था लेकिन अब मुम्बई ने 22 अंक और बेहतर नेट रन रेट के साथ फिर से अपना खोया स्थान हासिल कर लिया है। मुम्बई, चेन्नई और राजस्थान की टीमें पहले ही प्लेऑफ दौर में पहुंच चुकी हैं।

मुम्बई द्वारा दिए गए 167 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी राजस्थान की टीम निर्धारित 20 ओवरों में सात विकेट पर 151 रन ही बना सकी। स्टुअर्ट बिन्नी 37 रनों पर नाबाद लौटे जबकि केवन कूपर ने नाबाद सात रन बनाए। मुम्बई की ओर से जानसन और धवल कुलकर्णी ने दो-दो विकेट लिए जबकि हरभजन, मलिंगा और ओझा को एक-एक सफलता मिली।

राजस्थान की शुरुआत अच्छी नहीं रही। उसने 28 रन के कुल योग पर ही अपने चार अहम विकेट गंवा दिए। कप्तान राहुल द्रविड़ (4) रन के कुल योग पर मिशेल जानसन की गेंद पर दिनेश कार्तिक के हाथों लपके गए।

इसके बाद 22 रन के कुल योग पर जेम्स फॉल्कनर (12) भी पैवेलियन लौट गए। संजू सैमसन (4) को जानसन ने 26 रन के कुल योग पर पैवेलियन की राह दिखाई जबकि 28 रन के कुल योग पर अजिंक्य रहाणे (4) का विकेट गिरा।

शेन वॉटसन (19) और बिन्नी ने पांचवें विकेट के लिए 30 रन जोड़े। वॉटसन 16 गेंदों पर दो छक्के लगाने के बाद प्रज्ञान ओझा की गेंद पर कीरन पोलार्ड के हाथों लपके गए। उस समय कुल योग 58 रन था।

वॉटसन का स्थान लेने आए दिशांत याज्ञनिक (10) भी ज्यादा कुछ नहीं कर सके और 88 रन के कुल योग पर हरभजन सिंह की गेंद पर बोल्ड हुए। याज्ञनिक ने 14 गेंदों पर एक चौका लगाया। बिन्नी और याज्ञनिक के बीच 30 रनों की साझेदारी हुई।

इसके बाद ब्रैड हॉज (39) ने बिन्नी के साथ मिलकर सातवें विकेट के लिए 56 रनों की साझेदारी करते हुए राजस्थान की उम्मीदों को जिंदा रखने का प्रयास किया। हॉज पारी के अंतिम ओवर की पहली गेंद पर लसिथ मलिंगा द्वारा बोल्ड कर दिए। हॉज ने 27 गेंदों पर सात चौके लगाए।

अंतिम ओवरों में राजस्थान को जीत के लिए  23 रनों की दरकार थी लेकिन वह एक विकेट गंवाकर नौ रन ही बना सकी। बिन्नी ने 29 गेंदों पर तीन चौके और एक छक्का लगाया।

इससे पहले, मुम्बई ने टॉस हारने के बाद पहले बल्लेबाजी करते हुए आदित्य तारे (59) के अर्द्धशतक की बदौलत निर्धारित 20 ओवरों में आठ विकेट पर 166 रन बनाए।

मुम्बई का पहला विकेट 25 रन के कुल योग पर चौथे ओवर की दूसरी गेंद पर गिरा। ग्लेन मैक्सवेल (23) को शेन वाटसन की गेंद पर पगबाधा करार दिया गया।

मुम्बई के लिए दूसरे विकेट की साझेदारी में तारे ने दिनेश कार्तिक (21) के साथ 76 रन जोड़े। कार्तिक को प्रवीण ताम्बे ने संजू सैम्सन के हाथों कैच आउट कराया।

कार्तिक के जाने के बाद मुम्बई की मध्यक्रम की पारी कुछ खास नहीं कर सकी और तारे के 13वें ओवर की चौथी गेंद पर वाटसन के हाथों कैच आउट होने के बाद वे सिर्फ अपने रन औसत को बरकरार रख सके।

तारे ने 37 गेंदों में आठ चौके तथा एक छक्का लगाया। मुम्बई आखिरी पांच ओवरों में पांच विकेट गंवाकर 34 रन ही बना सका। राजस्थान के लिए फॉकनर तथा वॉटसन ने दो-दो विकेट हासिल किए तथा ताम्बे और केविन कूपर को एक-एक विकेट मिला।

Subcategories


Amount of short articles:
Amount of articles links:

Photo Gallery

Poll

सही है, तथ्यों पर आधारित लेख है - 100%
गलत है, धार्मिक भावनाएं आहत हुई हैं - 0%
बता नहीं सकते - 0%