LOADING

Type to search

सलमान खान की ओर से शानदार ‘ईदी’ है भारत

मनोरंजन

सलमान खान की ओर से शानदार ‘ईदी’ है भारत

Share

—अली अब्बास जफर के निर्देशन में बनी भारत में सलमान, कटरीना कैफ का जलवा
—दबंग स्टार सलमान खान के फैंस को ईद के मौके पर मिला फिल्म भारत का तोहफा

(कंचन लता)
नई दिल्ली/ मुंबई ।
बॉलीवुड के दबंग स्टार सलमान खान के फैंस को ईद के मौके पर उनकी फिल्म भारत का तोहफा मिला है। आज भारत रिलीज हो गई है। इस फिल्म में देश के बंटवारे से शुरू हुई कहानी को दिखाया गया है। फिल्म में 1947 से 2010 तक के वक्त को जीवंत किया गया है। इसमें सलमान की उम्र के अलग-अलग पड़ावों को बताया गया है। एक बार फिर इस फिल्म में सलमान, कटरीना कैफ के साथ नजर आ रहे हैं। इनकी जोड़ी का अभी तक अच्छा रिकॉर्ड रहा है।

आज ईद की छुट्टी होने की वजह से सलमान की फिल्म भारत को देखने लिए थिएटर भरा हुआ था। यहां लोग अपनी फैमिलीज के साथ भी पहुंचे थे, क्योंकि सलमान की फिल्में फैमिली एंटरटेनर होती हैं। अगर आप भी भारत को देखने का प्लान बना रहे हैं तो पहले इसका मूवी रिव्यू जरूर पढ़ लें।

2010 से शुरू होती है कहानी


भारत की कहानी 2010 से शुरू होती है, जहां सलमान खान (भारत) को उम्रदराज शख्स के रूप में दिखाया गया है। सलमान की अपनी एक दुकान हिंद राशन स्टोर है, जिसे वे बहुत चहाते हैं, इसकी वजह उनके बाबूजी (जैकी श्रॉफ) हैं। हर साल भारत अपना जन्मदिन अटारी स्टेशन पर ट्रेन के साथ दौड़ते हुए केक काटते हुए मनाता है। जिसकी एक दिलचस्प कहानी है, जो हमें 1947 के लाहौर के मीरपुर गांव में ले जाता है। जहां भारत अपने पूरे परिवार के साथ रहता है, लेकिन बंटवारे के दौरान उसके पिता और बहन गुड़िया वहीं छूट जाते हैं। ट्रेन जाते वक्त भारत के पिता उससे एक वादा लेते हैं कि वो हमेशा अपने परिवार को साथ रखेगा और उनकी देखभाल करेगा। बस इसी वादे के साथ भारत अपनी पूरी जिंदगी बिता देता है।

इस दौरान भारत की उम्र में रशियन सर्कस, तेल और गैस की खदानें, नेवी जैसे कई दौर आते हैं। सर्कस में जहां उन्हें राधा (दिशा पाटनी) का साथ मिलता है, वहीं बाकी पूरी जिंदगी मैडम सर (कटरीना कैफ) उनका साथ देती हैं। दोनों एक-दूसरे से प्यार करते हैं, लेकिन इतने सालों बाद भी दोनों शादी नहीं करते और लिव-इन में रहते हैं। भारत अपने बूढ़ापे तक अपनी पिताजी और बहन को ढूंढ़ता है। तो क्या भारत अपनी बहन और पिताजी को ढूंढ़ने में कामयाब रहा, क्या भारत और कुमुद कभी शादी कर पाए, इन सभी सवालों के जवाब आपको फिल्म देखने पर मिलेंगे।

सलमान के इर्द-गिर्द घूमती है भारत की एक्टिंग


भारत फिल्म सलमान के इर्द-गिर्द घूमती है। इसमें सलमान ने 20 साल से 70 साल तक के अपने रोल में कई अलग-अलग शैड्स दिखाए। हालांकि 70 साल की उम्र में उनका फाइट सीन थोड़ा अनरियल लगा। कटरीना मैडम सर यानि कुमुद के रूप में बेहद खूबसूरत लगी। कटरीना ने भी फिल्म में अच्छी एक्टिंग की है। इतना ही नहीं, कटरीना ने कई भारी हिंदी शब्दों को भी बहुत अच्छी तरह से बोला है। एक बार सलमान और कटरीना की केमिस्ट्री जबरदस्त रही।

सुनील ग्रोवर यहां सरप्राइज पैकेज रहें। उन्होंने अपनी एक्टिंग से सबको बहुत हंसाया। कुछ सीन्स इतने फनी थे, जिन्हें देखकर दर्शक अपनी हंसी नहीं रोक पाए। डायलॉग डिलवरी से लेकर एक्सप्रेशंस तक, फिल्म में हर एक्टर ने अपने रोल के साथ न्याय किया है। जैकी श्रॉफ, दिशा पाटनी, सतीश कौशिक के रोल काफी छोटे थे, लेकिन उन्होंने इन्हें बखूबी पूरा किया। लेकिन ओवरऑल एक्टिंग से लेकर किरदारों के लुक तक, सब कुछ अच्छा था। फिल्म में तब्बू का कैमियो था, जो उन्हें दिए गए स्क्रीन टाइम के मुताबिक ठीक था। हालांकि नोरा फतेही इसमें सिर्फ एक शो पीस की तरह दिखीं।

डायरेक्शन और म्यूजिक

फिल्म की सिनेमेटोग्राफी कमाल की लग रही थी, वहीं विशाल-शेखर का म्यूजिक आपको बांधे रखता है। भारत को अली अब्बास जफर ने डायरेक्ट किया है। फिल्म में कुछ-कुछ सीन्स को बहुत बेहतरीन तरीके से फिल्माया गया था। बंटवारे का सीन डायरेक्ट करना काफी मुश्किल था, जिसके बारे में जफर ने बताया भी था। लेकिन जब ये सीन स्क्रीन पर आया तो बहुत अच्छा लग रहा था। ये सीधे दर्शकों के दिल में उतरा। फिल्म में अलग-अलग वक्त को दिखाया गया है। एक वक्त से दूसरे में जाने में डायरेक्टर ने बहुत अच्छा काम किया है। इसे देखकर आपको ऐसा बिल्कुल नहीं लगेगा कि एक सीन के बाद दूसरा सीन एकदम से कैसे आ गया है। फिल्म की बारीकियों पर ध्यान दिया गया है।

भर आईं सबकी आंखे

अटारी बॉर्डर पर टीवी में देखते हुए सलमान के इमोशनल सीन को देखकर सबकी आंखे भर आईं। इमोशनल सीन्स के लिए जफर की तारीफ करने पड़ेगी, क्योंकि इन सीन्स में किरदारों के साथ दर्शक भी पूरी तरह से जुड़े। हालांकि फिल्म में कुछ सीन जबरदस्ती के दिखे, जैसे शिप पर समुन्द्री लुटेरों का हमला और जबरदस्ती की कॉमेडी। इन्हें आसानी से हटाया जा सकता था। वहीं नोरा फतेही वाली स्टोरी को भी अवॉइड किया जा सकता था। फिल्म में सलमान के लुक की अगर बात करें तो उनके 5 अलग-अलग लुक्स दिखाए गए। हालांकि मेकअप उनकी उम्र को छिपा नहीं पाया। दिशा पाटनी के साथ क्लोजअप शॉट में सलमान की उम्र साफ झलक रही थी। सिर्फ यहीं नहीं, ज्यादातर क्लोजअप शॉट्स के साथ ऐसा ही हुआ।

ओवरऑल भारत एक अच्छी फिल्म है


इन कुछ कमियों को छोड़ दें तो ओवरऑल भारत एक अच्छी फिल्म है और इसे आप अपने पूरे परिवार के साथ बैठकर देख सकते हैं। भाईजान ने एक बार फिर ईद पर अपना जादू चलाया है। सलमान खान की ये फिल्म आपको इमोशनल करने के साथ-साथ हंसायेगी भी। आप थिएटर से बाहर एक अच्छा एक्सपीरियंस लेकर जाएंगे।

लेखिका—कंचन लता
नई दिल्ली।
Tags:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *